fbpx
सर्दी में आजमाएं ये 5 देसी सुपरफूड

सर्दी में खुद को रखना है गर्म और रहना है बीमारी से दूर, तो आजमाएं ये 5 देसी सुपरफूड

सर्दी में खुद को रखना है गर्म और रहना है बीमारी से दूर, तो आजमाएं ये 5 देसी सुपरफूड

ज्‍यादातर इलाकों में सर्दी ने दस्‍तक दे दी है। तापमान में गिरावट आपके इम्युनिटी को ठीक से काम करने के लिए थोड़ा मुश्किल बना देती है। इससे आपको खांसी, सर्दी, जुखाम और बुखार होने का खतरा रहता है। इसके अलावा, खराब एयर क्‍वालिटी और एयर पॉल्‍यूशन केवल चीजों को बदतर बना रहा है,  बल्कि ये लोगों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डाल रहा है। ऐसे में इस सर्दी में बीमार पड़ने से बचाने के लिए अपने खानपान और जीवनशैली में बदलाव करना जरूरी है।

कुल्‍थी दाल:- कुल्‍थी दाल जो न केवल गुर्दे की पथरी को रोकने में मदद करती है, बल्कि त्वचा और खोपड़ी को सर्दियों के दौरान अच्छी तरह से हाइड्रेटेड और पोषित रहने में मदद करती है। इस दाल को आप चावल और घी के साथ खा सकते हैं। तेज सर्दी के दौरान यह दाल विशेष रूप से सहायक होती है।Pulses

मकाई का आटा:- मकाई या मकई एक अन्य पोषण संबंधी अनाज है जो सर्दियों में आपके आहार का एक हिस्सा होना चाहिए। मकई का आटा गेंहू के आटे का एक ग्‍लूटेन फ्री विकल्‍प है। मकई रोटी को साग के साथ खाया जाता है। पंजाबी परंपरा में मक्‍के की रोटी और सरसो का साग काफी फेमस है। यह पत्तेदार हरी लजीज सब्जी जिसे सरसों (सरसों), पालक (पालक) और यहां तक कि मेथी (मेथी) के साथ बनाया जाता है।

ये भी पढ़ें:- सर्दियों में क्या खाएं जिससे बने सेहत और सर्दी हो जाये छूमंतर !

Corn flourसर्दियों के दौरान मक्के की रोटी खाना फायदेमंद होता है क्योंकि इसमें बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन होते हैं। यह आपकी त्वचा, बाल, हृदय, मस्तिष्क और पाचन के लिए भी अच्छा है। मक्के की रोटी विटामिन ए, सी, के, बीटा-कैरोटीन और सेलेनियम का एक अच्छा स्रोत है। ये सभी पोषक तत्व थायरॉयड ग्रंथि के कामकाज में सुधार कर सकते हैं और प्रतिरक्षा को बनाए रखने में मदद करते हैं।

ये भी पढ़ें :-सर्दी जुखाम का चुटकियों में इलाज़……….

गुड़ और घी का प्रयोग :- गुड़ और घी का संयोजन साइनस को साफ करने और ठंड को रोकने में मदद कर सकता है। लंच और डिनर के बाद कुछ गुड़ में एक टी स्पून घी मिलाएं। आप इसे बाजरे की रोटियों के साथ भी खा सकते हैं। गुड़ आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ावा दे सकता है और आपके शरीर को गर्म रखता है।Jaggery and Ghee-zp

यह खांसी और सर्दी का इलाज करने में मदद कर सकता है और शरीर के तापमान को भी नियंत्रित रखता है। दूसरी ओर, घी कब्ज को रोक सकता है, पाचन को सुचारू कर सकता है, आपकी ऊर्जा को बढ़ावा देता है और खांसी और सर्दी के कारण होने वाली नाक से राहत देता है।

बाजरा का प्रयोग :- सर्दियों में बाजरे की रोटियां खाएं और यह जोड़ों के दर्द को रोकने में मदद कर सकता है। इसे दाल या सब्‍जी के साथ घी या सफेद मक्खन के साथ खाएं। बाजरा एक मैग्नीशियम से भरपूर अनाज है जो आपके दिल की सेहत के लिए फायदेमंद हो सकता है। इसमें पोटेशियम होता है, जो रक्त वाहिकाओं को पतला करता है और रक्त को अधिक आसानी से प्रवाहित करने में मदद करता है। फाइबर युक्त बाजरे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।

Use of millet

मक्‍खन या घी:- मक्‍खन और घी आपको बहुत आवश्यक वसा प्रदान करते हैं जो आपके लिए पाचन प्रक्रिया को सुचारू कर सकते हैं। घर का बना मक्खन और घी वसा में घुलनशील विटामिन ए, डी, ई और के को आत्मसात करने में भी मदद कर सकता है। विटामिन डी की कमी वाले लोगों को अपने आहार में मखाने या घी को शामिल करना चाहिए।

ghee-butter

 

1 thought on “सर्दी में खुद को रखना है गर्म और रहना है बीमारी से दूर, तो आजमाएं ये 5 देसी सुपरफूड”

  1. Pingback: क्या आप भी हैं मूंगफली खाने के शौकीन, तो जान लें इसके फायदे और नुकसान! - Zindagi Plus

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

नए पेरेंट्स नवजात शिशु की देखभाल ऐसे करें ! बढ़ती उम्र का करना पड़ रहा सामना! यह पानी, करेगा फेस टोनर का काम। भारत के वृहत हिमालय में 10 अवश्य देखने योग्य झीलें घर बैठे पैसे कमाने के तरीके सपने में दिखने वाली कुछ ऐसी चीजे, जो बदल दे आपका भाग्य ! home gardening tips Non-Stick और Ceramics Cookware के छिपे खतरे