6 दिन तक 25 फ़ीट बर्फ में दबे रहने के बाद जिन्दा निकला सैनिक



सियाचिन ग्लेशियर में पिछले बुधवार सोनम पद पर हिमस्खलन में दफन कर 10 सैनिकों में से एक ने सोमवार को 19,600 फुट ऊंचाई पर बचाव कार्य में जिंदा मिला

siachen-avalanche

उत्तरी सेना कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल डी एस हुड्डा सोमवार की रात कहा “बचाव कार्य में , लांस नायक हणमंत हप्पा कोप्पड़ (बेतदुर, कर्नाटक के धारवाड़ जिले के निवासी) जीवित पाया गए। अन्य सभी सैनिकों अफसोस हमारे बीच नहीं हैं

“कोप्पड़ की स्तिथि गंभीर बानी हुई है पर बचाव के सरे प्रयास किये गए हैं हमें उम्मीद है कि चमत्कार जारी रहेगा ,हमारे साथ प्रार्थना करें ” उन्होंने कहा

ciachin-glacier

 

वह सैनिक बेहोशी की हालत में २५ फ़ीट बर्फ के अंदर पाया गया तुरंत उसे गरम तम्बू में लाया गया जहाँ उसे डॉक्टर की मदद से स्थिर करने की कोशिश की गई जैसे ही संभव हुआ भारतीय वायु सेना का एक सी -17 विमान द्वारा दिल्ली रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल के लिए भेजा गया है।

 

इससे पहले सेना ने उन 10 सैनिकों में से किसी के भी जिन्दा बचने की उम्मीद छोड़ दी थी क्यूंकि बर्फ की वो दीवार एक किलोमीटर चौड़ा और 800 मीटर लम्बी थी।

image-indian army


Related posts

Leave a Comment