fbpx
junk food bad for health

बच्चों को जंक फूड से कैसे रखें दूर, ये हैं कुछ टिप्स

बच्चों को बचपन से ही सही खाने-पीने की आदत डालने में माता-पिता की मुख्य भूमिका होती है। कुछ बच्चे हेल्दी फूड्स खाने के बजाय अनहेल्दी चीजें जैसे कोल्ड ड्रिंक्स, वेफर्स के पेकेट, चिप्स खाना अधिक पसंद करते हैं। ऐसे में बच्चों को सही मात्रा में पोषक तत्व नहीं मिल जाता है, जिसकी वजह से उनके शारीरिक विकास पर असर पड़ने लगता है।

फास्ट फूड और जंक फूड द्वारा स्वास्थ्य पर होने वाले हानिकारक प्रभाव को वे नहीं जानते, जितना हो सके जंक फूड का सेवन कम करना ज़रूरी है। अगर आप भी अपने बच्चों के जंकफूड्स खाने की आदतों से परेशान हैं तो इसके लिए कुछ आसान से उपायों को आजमाएं। 

बच्चे की पसंदीदा डिश बनाएं घर में:

अगर आप चाहते हैं कि आपका बच्चा बाहर की चीजों से दूर रहे तो इसके लिए सबसे बेहतर है कि घर में आप उनके लिए उनकी पसंदीदा डिश तैयार करें इससे आपका बच्चा बाहरी चीजों से दूरी बनाएगा। 

हलवा

इसके लिए आप पिज्जा, बर्गर, नूडल्स जैसी चीजों को हेल्दी तरीके से तैयार कर सकते हैं इन डिशेज को  खाने से आपके बच्चों को भरपूर रूप से पोषण भी मिलेगासाथ ही वह बाहर के जंकफूड्स से दूरी भी बना सकते हैं। 

बच्चों को किचन में काम करने के लिए प्रोत्साहित करें

किचन बच्चों के लिए सीखने की एक अच्छी जगह है और छोटी उम्र से ही बच्चों को अगर आप किचन के छोटे-मोटे कामों के लिए प्रो्साहित करें। अपने लिए सैंडविच बनाने, फ्रूट्स कट करने और ब्रेड पर बटर लगाने जैसे कामों में उनकी मदद मांगे।

यह भी पढ़ें: बच्चे की परवरिश पर, पेरेंट्स को देना होगा खास ध्यान!

फ्रूट्स चार्ट

इस तरह बच्चे हेल्दी फ्रूट्स, सब्जियों, मसालों और हर्ब्स के बारे में जान सकेंगे और हो सकता है कि जल्द ही वे जंक फूड छोड़ पूरी तरह से हेल्दी फूड्स खाना शुरु कर दें।

खाने को सजा कर करें सर्व:

बच्चों को सुंदर और कलरफुल चीजें काफी आकर्षित करती हैं। ऐसे में जब भी आप उन्हें खाना परोसें तो थो़ड़ा सजाकर और रंग-बिरंगे तरीकों से परोसें। ऐसा करने से बच्चों का खाने के प्रति लगाव बढ़ेगा।

डेकोरेट food

वही ऐसी चीजें खाने से बचेंगे, जो उनके लिए हेल्दी नहीं होता है। खासतौर पर फलों की तरह-तरह की वैरायटीज को प्लेट में सजाकर आप अपने बच्चों को दे सकते हैं।

क्रेविंग्स होने पर हेल्दी चीजें दें:

कई बच्चों को बार-बार खाने की इच्छा होती है। ऐसे में आप उन्हें बिस्किट या फिर नमकीन जैसी चीजें देने के बजाय घर में तैयार चीजें दें। इससे वह घर का खाना खाना सीखेंगे। साथ ही उनके खाने क्रेविंग भी कम होगी।

यह भी पढ़ें: कहीं देर न हो जाये क्या आपने अपने बच्चे को बताया गुड टच और बेड टच के बारे में

जंक फूड सेहत के लिए हानिकारक:

जंक फूड एक तरह का प्रोसेस्ड फूड है जो कि हेल्दी फूड नही माना जाता केक और बिस्कुट, फास्ट फूड चिप्स, बर्गर और पिज्जा, चॉकलेट और मिठाई
स्नैक्स, मीठा पेय जैसे खेल, कॉल्ड ड्रिंक।

Know, answer every question related to obesity in children | जानिए, बच्चों में मोटापे से जुड़े हर सवाल का जवाब | Patrika News

बच्चों का जंक फूड की ओर बढ़ता आकर्षण उनका गंभीर बीमारियों की ओर बढ़ने की ओर भी इशारा करता है। बाहर के खाने में रिफाइंड प्रोडक्ट का इस्तेमाल किया जाता है, जिसके सेवन से बच्चों में मोटापा, पेट और इम्यूनिटी जैसी समस्याएं बढ़ सकती हैं। इसलिए जरूरी है बच्चों में जंक फूड की आदत को समय से कंट्रोल किया जाए।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

नए पेरेंट्स नवजात शिशु की देखभाल ऐसे करें ! बढ़ती उम्र का करना पड़ रहा सामना! यह पानी, करेगा फेस टोनर का काम। भारत के वृहत हिमालय में 10 अवश्य देखने योग्य झीलें घर बैठे पैसे कमाने के तरीके सपने में दिखने वाली कुछ ऐसी चीजे, जो बदल दे आपका भाग्य ! home gardening tips Non-Stick और Ceramics Cookware के छिपे खतरे