जोधपुर एक लुभावना सुंदर शहर है, जहां हर जगह तेजस्वी नीले घर हैं। ‘ब्लू सिटी’, जिसे ‘सन सिटी’ भी कहा जाता है। राजस्थान के केंद्र के पास इसका स्थान पर्यटकों के लिए सुविधाजनक बनाता है।…

हवा महल भारत के जयपुर शहर में स्थित एक महल है। हवा महल को 1798 में महाराजा सवाई प्रताप सिंह ने बनवाया था।  हवामहल को किसी महल नहीं बल्कि राजमुकुट की तरह डिजाइन करवाया गया।…

बैसाखी पर्व का बड़ा महत्व : बैसाखी पंजाब, हरियाणा और आसपास के प्रदेशों का प्रमुख त्योहार है। इस दौरान रबी की फसल पककर तैयार हो जाती है। फसल काटने के बाद किसान नए साल का…

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का इतिहास: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के इतिहास की बात करें तो सबसे पहले इसे साल 1909 में मनाया गया। मताधिकार, सरकारी कार्यकारिणी में जगह, नौकरी में भेदभाव को खत्म करने जैसी कई…

फतेहगढ़ साहिब में शहीदी जोड़ मेला शुरू हो चूका है, आज हम आपको बताने जा रहे हैं 26 दिसंबर 1704 को गुरुगोबिंद सिंह के दो साहिबजादे जोरावर सिंह और फतेह सिंह को इस्लाम धर्म कबूल…

1857 से पहले ही अंग्रेजों ने अपनी फौज में गोरखा सैनिकों को रखना आरम्भ कर दिया था. 1857 के भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में इन्होंने ब्रिटिश सेना का साथ दिया था क्योंकि उस समय वे…

प्राचीनकाल में जब मन्दिर बनाए जाते थे तो वास्तु और खगोल विज्ञान का ध्यान रखा जाता था। इसके अलावा राजा-महाराजा अपना खजाना छुपाकर इसके ऊपर मन्दिर  बना देते थे और खजाने तक पहुंचने के लिए…

शिवाजी को बचपन से ही पिता के स्नेह प्यार से वंचित रहना पड़ा था।.युद्धों में व्यस्त शाह जी कम ही समय में पुत्र और पत्नी के साथ वक्त बहुत कम बिता पाए थे। शिवाजी का…

क्रांतिकारी भगत सिंह का नाम सबसे पहले : भारत के सबसे प्रभावशाली क्रान्तिकारियो की प्रथम सूची में क्रांतिकारी भगत सिंह का नाम प्रमुखता से लिया जाता है। जब कभी भी हम उन शहीदों के बारे में…

हिमाचल प्रदेश में कांगड़ा से 30 किलो मीटर दूर स्थित ज्वालामुखी देवी का मंदिर है। ज्वालामुखी मंदिर को जोता वाली का मंदिर और नगरकोट भी कहा जाता है। ज्वालामुखी मंदिर को खोजने का श्रेय पांडवो को…