fbpx
नवरात्रि 2023: इस दिन से शारदीय नवरात्रि होंगे शुरू, जानें विधि ! 2

नवरात्रि 2023: इस दिन से शारदीय नवरात्रि होंगे शुरू, जानें विधि !

शारदीय नवरात्रि एक महत्वपूर्ण हिन्दू त्योहार है जो भारत में विशेष रूप से मनाया जाता है। यह नौ दिनों तक का त्योहार होता है। जो चैत्र और आश्विन मास में आयोजित किया जाता है। शारदीय नवरात्रि भारतीय हिन्दू पंचांग के अनुसार आश्विन मास के शुक्ल पक्ष में मनाई जाती है, जो सामान्यत: सितंबर और अक्टूबर के बीच होता है।

इस दौरान लोग देवी दूर्गा की पूजा करते हैं और नवरात्रि में नौ दिनों तक व्रत रखते हैं। नवरात्रि देवी दुर्गा के कई रूप जैसे महाकाली, महालक्ष्मी, और महासरस्वती की पूजा के रूप में मनाई जाती है।

नवरात्रि का अर्थ होता है “नौ रातें” और इसे देवी दुर्गा की पूजा के रूप में मनाया जाता है। हर दिन को एक विशेष रूप में पूजा जाता है और नौ दिनों में देवी दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है, जिन्हें नवदुर्गा के नाम से जाना जाता है। इन दिनों के दौरान भक्त व्रत रखते हैं और पूजा के लिए विशेष आहार तैयार करते हैं।

नवरात्रि का आखिरी दिन:

नवरात्रि का प्रमुख आधार है शक्ति की पूजा और शक्ति के प्रति भक्ति का माहौल बनाना। इसके दौरान सभी पूजाओं में देवी की मूर्ति को खास रूप से पूजा जाता है और भजन-कीर्तन भी आयोजित किया जाता है। नवरात्रि के आखिरी दिन को विजयदशमी के रूप में मनाया जाता है, जिसका अर्थ होता है “विजय का दिन”। इस दिन दशहरा पर्व भी मनाया जाता है, जिसमें भगवान राम ने रावण को मारकर अपनी पत्नी सीता को मुक्त किया था।

नवरात्रि 2023: इस दिन से शारदीय नवरात्रि होंगे शुरू, जानें विधि ! 3

यह भी पढ़ें:जानिए माँ दुर्गा के आठ अक्षर वाले सिद्ध मंत्र के फायदे, इसे जपने से पूरी होती है सभी मुरादें

नवरात्रि त्योहार के दौरान धार्मिक और सांस्कृतिक आयोजन होते हैं, जिसमें लोग आपसी मिलन-जुलन, भक्ति, और खुशियों का साथ मनाते हैं। यह त्योहार भारत के विभिन्न हिस्सों में विभिन्न रूपों में मनाया जाता है, लेकिन उसका मुख्य उद्देश्य समाज में शक्ति, साहस, और नैतिकता की प्रशंसा करना होता है।

कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त:

 नवरात्रि के पहले दिन कलश स्थापना या घटस्थापना की जाती है। इस साल नवरात्रि का पहला दिन 15 अक्टूबर को है। कलश स्थापना का उत्तम समय 15 अक्टूबर को सुबह 11 बजकर 44 मिनट से दोपहर 12 बजकर 30 मिनट तक रहेगा। घटस्थापना की कुल अवधि 46 मिनट की है।

नवरात्रि 2023: इस दिन से शारदीय नवरात्रि होंगे शुरू, जानें विधि ! 4

घटस्थापना के दिन चित्रा नक्षत्र का संयोग:

 इस साल शारदीय नवरात्रि के पहले दिन चित्रा नक्षत्र का शुभ संयोग बन रहा है। कलश स्थापना वाले दिन चित्रा नक्षत्र 14 अक्टूबर 2023 को शाम 04 बजकर 24 मिनट पर प्रारंभ होगा और 15 अक्टूबर को शाम 06 बजकर 13 मिनट पर समाप्त होगा।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

बुद्ध पूर्णिमा के दिन बन रहे हैं योग, कर लें ये उपाय ! इन गर्मियों में ऐसे आप अपने garden को रख सकते हैं हरा भरा, इन किचन के चीजों से, जानिए कैसे घुमने से पहले इन ट्रेवल ट्रिप्स को फॉलो जरुर करें! क्या आप भी तो नहीं दही के साथ खाते हो ये सब, तो आप अपने जीवन से कर रहे हो खिलवाड़ ! कुछ देर बैठे जमीन पर, रहेंगे फिट ,यकिन न हो तो आजमाकर देखें ! गर्मियों में दे ठंडक का एहसास, इन जगह का करें इस बार विजिट! लू लगने के लक्षण और इससे बचाव!