fbpx
डायबिटीज

जानिए डायबिटीज को कंट्रोल करने के आसान उपाय

आज की लाइफस्‍टाइल ने बहुत ही सुख-सुविधाएं दी हैं, लेकिन इसी के कारण काफी बीमारियों और तनाव को भी बढ़ावा मिला है। डायबिटीज इन्‍हीं बीमारियों में से एक है। यह आपको पता चले बिना ही बीमार बना सकता है। डायबिटीज अस्त-व्यस्त जीवनशैली, गलत खानपान के कारण होता है। लाइफस्टाइल और भोजन की आदतों में सुधार करके डायबिटीज से बचा जा सकता है।

यह भी पढ़ें: अपनी याददाश्त को चुस्त-दुरुस्त कैसे बनाएं? आओ जाने कुछ ख़ास तरीके……

डायबिटीज में ब्लड शुगर का लेवल बहुत बढ़ जाता है जिसके कारण शरीर की इंसुलिन उत्पादन क्षमता प्रभावित होने लगती है। कई बार ऐसा भी होता है कि शरीर सक्रिय रूप से इंसुलिन का इस्तेमाल ही नहीं कर पाता हैं।

डायबिटीज के क्या हैं लक्षण?

डायबिटीज हो जाने पर खुजली होना, आंखों की रोशनी कम हो जाना, थकान और कमजोरी महसूस होना, शरीर के अलग-अलग हिस्सों का सुन्न हो जाना (खासतौर पर पैर का), जख्म का देर से ठीक होना, हमेशा भूख महसूस होना भी डाटबीटीज के प्रमुख लक्षण हैं।

डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए सबसे जरूरी है कि आप अपने खानपान पर विशेष ध्यान दें और परहेज करें। इसके साथ ही कई ऐसे घरेलू उपाय हैं जिनसे आप डायबिटीज को कंट्रोल कर सकते हैं।


डायबिटिज को कैसे करे कंट्रोल-


तुलसी की पत्ती-
तुलसी की पत्त‍ियों से डायबिटीज को कंट्रोल कर सकते हैं। तुलसी की पत्त‍ियों में एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमें कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो पैंक्रियाटिक बीटा सेल्स को इंसुलिन के प्रति सक्रिय बनाती हैं। ये सेल्स इंसुलिन के स्त्राव को बढ़ाती हैं। सुबह उठकर खाली पेट दो से तीन तुलसी की पत्ती खाएं। आप चाहें तो तुलसी का रस भी पी सकते हैं। इससे ब्लड शुगर लेवल कम होता है।

यह भी पढ़ें: कब्ज और बवासीर का जड़ से करता है खात्मा ये स्वादिष्ट फल !

दालचीनी का पाउडर दालचीनी के पाउडर से डायबिटीज को कंट्रोल कर सकते हैं। दालचीनी व्यंजनों में इस्तेमाल होने वाला एक प्रमुख मसाला है। दालचीनी के प्रयोग से इंसुलिन की संवेदनशीलता बढ़ती है। दालचीनी के पाउडर को गुनगुने पानी के साथ लें। बहुत अधिक मात्रा में ये पाउडर लेना खतरनाक हो सकता है इसलिए मात्रा का विशेष ध्यान दें।

ग्रीन टी – ग्रीन टी पीने से डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है। ग्रीन टी में पॉलीफिनॉल पाया जाता है। ये एक सक्रिय एंटी-ऑक्सीडेंट है जो ब्लड शुगर को कंट्रोल करता है। प्रतिदिन सुबह और शाम ग्रीन टी पीना चाहिए।

सहजन की पत्ती का रस – सहजन की पत्त‍ियों को पीसकर उसके रस को निकाल लें और सुबह खाली पेट पीयें। इससे शुगर लेवल नहीं बढ़ेगा।

यह भी पढ़ें: रोजाना शहद खाने के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान !

जामुन के बीज – जामुन के बीज से डायबिटीज को कंट्रोल कर सकते हैं। जामुन के बीजों को अच्छी तरह सुखायें, सूखने के बाद इन्हें पीसकर एक चूर्ण बनाएं। सुबह खाली पेट इस चूर्ण को गुनगुने पानी के साथ लें।

नियमित एक्सरसाइज – डायबिटीज को कंट्रोल में रखने के लिए आपको रोज़ाना एक्सरसाइज करनी चाहिए। एक्सरसाइज न सिर्फ आपके तनाव को कम करती है, बल्कि ये आपके बल्ड प्रेशर और कोलेस्ट्रोल प्रेशर के लेवल को भी कंट्रोल करने में मदद करती है।

खानपान पर ध्यान दें – जिनमें फाइबर की मात्रा ज्यादा हो ऐसे फूड जरूर खाएं, जैसे कि हरी सब्जियां, फल, बीन्स आदि। ये सभी घरेलू उपाय डाटबीटीज कंट्रोल करने में मददगार हैं लेकिन इन्हें प्रयोग करने से पहले चिकित्सक की सलाह जरूर ले लें। कौन सी चीज कितनी मात्रा में लेनी चाहिए, इसकी सही जानकारी होना जरूरी है। समय-समय पर जांच करवाते रहें।

 

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

नए साल 2024 में, जाग उठेगा सोया हुआ भाग्य, राशिनुसार करें ये उपाय! “बॉलीवुड के गहरे राज़: माफिया से रहस्यमय मोहब्बत में पड़ बर्बाद हुई टॉप बॉलीवुड एक्ट्रेस, कुछ नाम आपको चौंका देंगे!” सर्दियों में खाने के लिए 10 ऐसे पत्तों की औषधि, जो आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद हैं। इन सर्दियों में ऐसे रहें फिट, खाएं ये पौष्टिक आहार ! कर्ज से चाहिए छुटकारा, शुक्रवार के दिन कर लें काम! इन तरीकों से खुद को रखें तंदरुस्त I वास्तु शास्त्र के अनुसार करें इन गलतियों को सही, घर में होगा माँ लक्ष्मी का प्रवेशI