जानिए शिव जी के 12 ज्योतिर्लिंग एवं उनका महत्व

हिन्दू धर्म शास्त्रों के अनुसार देवो के देव महादेव अजन्मे है, अनंत है।  पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, महादेव शिवशंकर जहाँ-जहाँ स्वयं प्रगट हुए उन बारह स्थानों पर स्थित शिवलिंगों को ज्योतिर्लिंगों के रूप में पूजा जाता है। शास्त्रों एवं  पुराणों के अनुसार शिवजी जहाँ-जहाँ स्वयं प्रगट हुए उन बारह स्थानों पर स्थित शिवलिंगों को ज्योतिर्लिंगों…

Read More

हिन्दू धर्म में क्यों पूज्यनीय है गाय

हिन्दू धर्म में गाय पवित्र व माता क्यों मानी जाती है? हिन्दू धर्म में गाय को मां की तरह पूजा जाता है।  इस धरती पर पहले गायों की कुछ ही प्रजातियां होती थीं। प्राचीन काल में गाय की एक ही प्रजाति थी। सबसे पहले गुरु वशिष्ठ ने गाय के कुल का विस्तार किया और उन्होंने…

Read More

मुस्लिम विद्वानो का झूठ और भविष्य पुराण।

क्या है भविष्य पुराण का सच-   महाऋषि व्यास के अठारह पुराणों में से एक पुराण भविष्यपुराण में मुहम्मद पैगम्बर साहब की तारीफ बया की गई है। कुछ मुस्लिम विद्वान इस्लाम धर्म को महिमामंडित करने और सनातन धर्म को लेकर भविष्य पुराण का सहारा ले रहे हैं, और लगातार समाज को भ्रमित किया जा रहा है…

Read More

प्राचीन सभ्यता में शिवलिंग के अद्भुत रहस्य

प्राचीन काल में शिवलिंग के अद्भुत रहस्य एवं प्रकार:   भगवान शिव की पूजा या आराधना एक गोलाकार पत्थर के रूप में की जाती है जिसे पूजा स्थल के गर्भगृह में रखा जाता है। सिर्फ भारत और श्रीलंका में ही नहीं, भारत के बाहर विश्व के अनेक देशों में शिव की पूजा की जाती रही…

Read More

विश्व के सबसे प्राचीन मंदिर !

भारतीय संस्कृति व सभ्यता विश्व की प्राचीन संस्कृतियों में से एक है। सनातन धर्म को पृथ्वी का सबसे प्राचीन धर्म माना जाता है, सनातन धर्म की उत्पत्ति मानव की उत्पत्ति से भी पहले की है। सनातन धर्म वेदों पर आधारित धर्म है, जो अपने अन्दर कई अलग-अलग उपासना पद्धतियाँ, मत, सम्प्रदाय और दर्शन समेटे हुए…

Read More

क्यों छिपाए गए वाम इतिहासकारों द्वारा बाबरी मस्जिद के तथ्य

डॉ़क्टर मोहम्मद ने कहा कि मंदिर मामले में देश के मुसलमानों को कुछ वामपंथी चिंतकों ने गुमराह किया था. अगर ऐसा न हुआ होता तो ये मुद्दा कब का सुलझ चुका होता. मोहम्मद ने कहा कि ये खुदाई भारतीय पुरात्तव सर्वेक्षण के तत्कालीन महानिदेशक प्रोफेसर बीबी लाल के नेतत्व में की गई थी. उस टीम…

Read More

गुरु गोविंद जयंती :सिख समुदाय के दसवें धर्म-गुरु (सतगुरु) गोविंद सिंह जी का जन्म उत्सव

सिख समुदाय के दसवें धर्म-गुरु (सतगुरु) गोविंद सिंह जी का जन्म पौष शुदि सप्तमी संवत 1723 (22 दिसंबर, 1666) को पटना शहर में गुरु तेग बहादुर और माता गुजरी के घर हुआ। गुरु गोविंद सिंह के जन्म उत्सव को ‘गुरु गोविंद जयंती’ के रूप में मनाया जाता है। इस शुभ अवसर पर गुरुद्वारों में भव्य…

Read More

जानें क्यों मनाते हैं मकर संक्रांति…

मकर संक्रांति हिंदू धर्म का प्रमुख त्यौहार है। यह पर्व पूरे भारत में किसी न किसी रूप में मनाया जाता है। पौष मास में जब सूर्य मकर राशि पर आता है तब इस संक्रांति को मनाया जाता है। यह त्यौहार अधिकतर जनवरी माह की चौदह तारीख को मनाया जाता है। यह इस बात पर निर्भर करता…

Read More

Know duties of wife and husband towards each other from ‘Vedas’…!!

Duties of Wife and husband towards each other (from Vedas) -------------------------Wife's Duties--------------------------- (1) AtharvaVeda 1/14/1 – A good wife should establish herself permanently in her husband’s house just as mountain firmly establishes itself on ground. (2) AtharvaVeda 3/25/1- Wife should long to be in company of her husband. (3) AtharvaVeda 3/25/5- wife should be attracted…

Read More

जानिए पौराणिक-काल के 6 चर्चित श्राप और उनके पीछे की कथा, विस्तार से…

जानिए पौराणिक-काल के 6 चर्चित श्राप और उनके पीछे की कथा - हिन्दू धर्मग्रंथो में अनेक श्रापो का वर्णन मिलता हैं। हर श्राप के पीछे कोई न कोई कथा भी हैं । आज हम आपको ग्रंथो में उल्लिखित ऐसे 6 प्रसिद्ध श्राप व उनके पीछे की कथा बताते हैं। 1. युधिष्ठिर का स्त्री जाति को…

Read More