आजकल शुगर (मधुमेह) एक आम बीमारी बन गयी है. इसका सबसे बड़ा कारण हमारा खानपान पर नियंत्रण ना होना है. शुगर के कारण किसी का लिवर ख़राब हो जाता है, किसी की किडनी किसी को paralisis हो रहा है, किसी को brain stroke हो रहा है ,किसी को heart attack आ रहा है। कुल मिलकर diabetes के complications बहुत है। प्रीतिदिन बहुत लोग इस बीमारी का शिकार हो रहे है।

मधुमेह होने पर ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ने लगती है. अभी तक शुगर को जड़ से ख़त्म करने का कोई इलाज नहीं है लेकिन ब्लड में रक्त शर्करा को कण्ट्रोल कर के सुखमयी जीवन जिया जा सकता है।

अगर आप भी बढती शुगर से परेशान हैं तो आज हम आपको कुछ आयुर्वेदिक उपचार एवं कुछ आसान उपाय बताने जा रहे हैं जिससे आप अपनी बढती शुगर को नियंत्रण कर सकते हैं।

1. अगर आप शुगर पर लगाम लगाना चाहते हैं तो आप सोने से कम से कम 2 घंटे पहले खाना खा लें और खाना खाने के बाद 20 से 30 मिनट हल्के कदमों से टहलें। अगर आप अपनी लाइफस्टाइल में ये छोटा सा बदलाब करते है तो आपको बहुत लाभ मिलेगा।

ये भी पढ़ें: दालचीनी के अदभुत स्वास्थ्य लाभ

morning walk

 

2. कुटकी निंब पत्र, चिरायता, काल मेघ, सूखा करेला, गिलोय, जामुन, काली जीरी और मेथी को बराबर मात्रा में लें। आप इन सभी को बराबर मात्रा में पीसकर चूर्ण बना लें। आप इस चूर्ण को रोज 1-1 चम्मच सुबह-शाम खाली पेट लें। इससे आपको काफी लाभ मिलेगा।

giloy

 

3. नीम की कोपल (नई पत्तियां) को सुबह के वक्त खाली पेट चबाकर खाएं या पीसकर सेवन करें। इससे भी आप बढ़ते शुगर पर लगाम लगा सकते है।

neem

 

4. जामुन की गुठली को सुखा लें। पूरी तरह सूखने के बाद इनका पाउडर बनाकर हर रोज सुबह-शाम खाली पेट 1-1 चम्मच ताज़े पानी से लें।

jamun

 

5. सदाबहार के 6-7 फूलों को रोज सुबह धोकर चबाकर खा लें। ये भी शुगर की अचूक औषधि है।

sadawahar

 

6. 100 ग्राम मेथी के दाने, १०० ग्राम तेज पत्ता, १५० ग्राम जामुन के बीज, २५० ग्राम बेल के पत्ते

अब इनको धूप में सुखाकर फिर सिलबट पर या पत्थर पर पीसकर अब इन सभी को एक साथ मिला ले और किसी सीसी मैं भरकर रख लें।

यह भी पढ़ें: औषधीय गुणों से भरपूर है आंवला

सुबह शाम खाना खाने से पहले १-१ चम्मच गुनगुने पानी से इसे लें। इससे आपको अत्यधिक लाभ मिलेगा।

 

7. एक चम्मच मेथी के दानो को रात को पानी में भिगो कर रख दें, सुबह उठकर इस पानी को घूट -२ कर के पिए और मेथी के दानो को चबा लें। इससे भी आपकी बढती शुगर पर लगाम लग सकती है।

methi

शुगर में परहेज-

1. हमेशा शुद्ध खाना खाएं एवं हल्का खाना खाएं।

2. शुगर में चीनी का प्रयोग कभी ना करें चीनी की जगह आप गुड का प्रयोग कर सकते हैं।

3. प्यास लगने पर हो सके तो पानी में नीबू मिलकर पियें।

4. जिसमे फाइबर और रेशे की मात्रा ज्यादा हो उन्ही चीजों को खाएं जैसे, हरी सब्जी दाल, पालक, छिलके वाली दाल आदि।

5. तला हुआ भोजन, सूखे मेवे, चीनी, केला, चीकू, सीताफल आदि का सेवन न करें।

6. सुबह शाम व्यायाम करें।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *