जब हिन्दू धर्म की रक्षा के लिए बलिदान हो गए थे गुरु गोविन्द सिंह जी के साहिबजादे

फतेहगढ़ साहिब में शहीदी जोड़ मेला शुरू हो चूका है, आज हम आपको बताने जा रहे हैं 26 दिसंबर 1704 को गुरुगोबिंद सिंह के दो साहिबजादे जोरावर सिंह और फतेह सिंह को इस्लाम धर्म कबूल न करने पर सरहिंद के नवाब ने दीवार में जिंदा चुनवा दिया था, माता गुजरी को किले की दीवार से…

Read More