झारखण्ड के रामगढ़ जिले में तथाकथित लव जिहाद का एक और नया मामला सामने आने और लड़की की हत्या के बाद पुलिस प्रशासन की नींद उड़ा दी है। जी हाँ लव जिहाद का ये ताजा मामला रामगढ़ जिले के भदानीनगर ओपी क्षेत्र के महुआटोला का है। यहाँ की रहने वाली किरण कुमारी की हत्या कर दी गयी है। इस मामले में बोकारो के एसपी कार्तिक एस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है और जांच के बाद ही मामले का खुलासा हो सकेगा।

मुस्लिम युवक से प्रेम करना बना मौत की बजह-

बता दें कि 23 दिसंबर को बोकरो जिले के बालीडीह थाना पुलिस ने एक युवती का शव नग्न अवस्था में गरगा नदी के किनारे से बरामद किया था। पुलिस इस मामले की जांच कर रही थी, पुलिस की जाँच में लड़की की पहचान किरण कुमारी के रुप में हुई जो रामगढ़ के महुआटोला की रहने वाली थी।

यह भी पढ़ें:यूपी में सामने आया लव जिहाद का मामला- धर्म परिवर्तन कर आफरीन बनी पिंकी को मारपीट कर घर से निकाला

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या से पहले लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म की बात सामने आयी है. इसके बाद बोकारो जिले के बालीडीह थाना पुलिस ने किरण के कथित प्रेमी आदिल अंसारी को रविवार शाम गिरफ्तार कर लिया.

इस हत्‍या के खुलासे के बाद माहौल गर्म हो गया है। हत्‍या और लव जिहाद के विरोध में कई हिंदू संगठन के लोग आगे आये हैं. सोमवार को हिन्दू जागरण मंच रांची, रामगढ़, विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, युवा वाहिनी आदि संगठनों के अधिकारियों व लोगों ने भदानीनगर महुआ टोला स्थित मृतिका किरण कुमारी के घर जाकर उसके परिजनों से मुलाकात की. हिन्दू संगठन के लोगों ने परिजनों को सांत्वना देते हुए पूरे मामले की जानकारी ली. संगठन के लोगों ने बैठक कर रणनीति बनायी।

आदिल ने किये चौंकाने वाले खुलासे-

वही पुलिस को आदिल ने बताया कि उसने किरण के साथ भागकर शादी की थी। शादी के बाद दोनों बोकारो स्थित मौसा के घर पहुंचे। मौसा ने फोन कर आदिल के पिता असगर अली को भी बुला लिया। उसके अब्बा और मौसा ने हम दोनों से कहा- दोनों का अलग धर्म है. इस लड़की को पहले इस्लाम में दाखिल कराओ फिर शादी कर सकते हो। अगर ऐसा नहीं कर सकते तो लड़की को छोड़ दो।

इस्लाम ना कबूलने पर की गैंगरेप के बाद हत्या-

आदिल ने बताया कि जब हमने बिना धर्म परिवर्तन किये साथ रहने के लिए कहा तो पिता और मौसा ने हमे रांची भेजने के लिए स्‍टेशन छोड़ने के लिए कहा. उसके बाद वो लोग हम दोनों को जंगल के रास्‍ते राजाबेड़ा हाल्‍ट की ओर निकल पड़े। जब किरण ने पूछा के हमें जंगल के रास्‍ते क्‍यों ले जा रहे हैं. सड़क के रास्‍ते गाड़ी से चलिए। तब आदिल के पिता ने कहा कि अभी से ही क्यों घबरा रही, अभी तो बहुत कुछ देखना बाकी है।

यह  भी पढ़ें: रेप के बाद खून भी निकाल लेते है इस्‍लामिक आतंकी

किरण ने जब इसका विरोध किया और बापस जाने के लिए कहा तो मौसा ने उसे पकड़ लिया और उसे घसीटते हुए झाड़ियों की तरफ ले गया उसके बाद इसके बाद कुछ और लोग भी वहां आ गए और उसके बाद इन लोगों के किरण के साथ सामूहिक बलात्कार कर उसे मार डाला।

वहीँ पुलिस का कहना है कि इस मामले की जाँच कर रही है और जो भी दोषी होगा उसपर कड़ी कार्यवाई की जाएगी। अब देखना ये होगा कि पुलिस इस मामले को कितनी गंभीरता से लेती है और दोषियों पर क्या कार्यवाई करती है।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *