बिलासपुर जिले में एम्स का शिलान्यास:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में एम्स का शिलान्यास किया। इस ख़ुशी के मौके पर उन्होंने जनसभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने प्रदेश को एम्स के साथ ऊना और कंदरोड़ी में स्टील प्लांट की भी सौगात दी। अधिकारियों ने प्रधानमंत्री मोदी को स्टील प्लांट का वीडियो भी दिखाया। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्टील प्लांट के पूरे प्रोजेक्ट को लेकर भी चर्चा की।

बिलासपुर में 750 बिस्तर वाले इस अस्पताल का निर्माण करीब 1350 करोड़ रुपये की लागत से होगा। यहां स्वास्थ्य सेवाओं के अलावा नर्सिंग, स्नातक और स्नातकोार स्तर पर मेडिकल शिक्षा भी मुहैया करायी जाएगी। प्रधानमंत्री कांगड़ा के कंद्रोरी में स्टील ऑथोरिटी ऑफ इंडिया सेल की एक इस्पात प्रसंस्करण इकाई का उद्घाटन भी किया।

बिलासपुर के लुहणू ग्राउंड में जनसभा को संबोधित:

प्रधानमंत्री ने कहा कि अब प्रदेश के लोगों को तय करना है कि देश में जमानत पर चल रही सरकार चाहिए या फिर इस सरकार को जमानत दे देनी है। यूपीए सरकार के समय विकास रूका पड़ा था क्योंकि उस सरकार के हर विभाग में अलग-अलग मंत्री थे। पीएम मोदी बिलासपुर में एम्स, ट्रिपल आईटी का शिलान्यास और कांगड़ा स्थित स्टील प्लॉट के उदघाटन के बाद बिलासपुर के लुहणू ग्राउंड में जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

ये भी पढ़ें :बाबा रामदेव ने लगाई नेपाल में आयुर्वेद उत्पाद इंडस्ट्री, राष्ट्रपति ने किया उद्घाटन

लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा:

प्रधानमंत्री ने कहा कि बिलासपुर में लोगों का देश के विकास में बड़ा योगदान है। बिलासपुर के लोगों का त्याग ही है कि आज पंजाब हरियाणा में हरियाली है। आज जहां भी कृषि विकास की बातें होती हैं, वहां बिलासपुर का नाम जरूर लिया जाता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रदेश की चार चार पीढि़यां देश की सीमाओं पर अपनी जवानी लगा देती हैं। हिमाचल में एम्स बनने से सूबे के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिलेगी।

हिमाचल में पुरूषों की मृत्यु दर अधिक है लेकिन एम्स बनने के बाद इसमें भी कमी आएगी। कहा कि इसके अलावा प्रदेश को केंद्र ने 69 हाईवे दिए हैं। लेकिन प्रदेश सरकार अभी तक डीपीआर नहीं बना पाई। लेकिन अब भाजपा सत्ता में आने के बाद इसकी डीपीआर भी खुद तैयार करेगी।

युवक जो बेरोजगार है उन्हे रोजगार:

प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रदेश के विकास में 15 हजार करोड़ रूपये खर्च होंगे जिसमें 7 ट्रांसपोर्ट प्रोजेक्ट, दो पेट्रोलियम, दो पावर, एक अर्बन डेवलपमेंट और एक रेलवे प्रोजेक्ट शामिल है। उन्होंने कहा कि इससे जहां देश का विकास होगा वहीं युवाओं को रोजगार के मौके भी मिलेंगे।

युवा किसी भी पार्टी की रीढ़ की हड्डी होते हैं, लेकिन प्रदेश में काग्रेस की सरकार ने उस रीढ़ को तोड़ने का काम किया है। भाजपा की सरकार आने के बाद प्रदेश में ऐसी व्यवस्था की जाएगी की ज्यादा से ज्यादा युवक जो बेरोजगार है उन्हे रोजगार मिल सके। इस वादे को हम पूरा करेंगे।

प्रदेश में पर्यटन कारोबार को भी बढ़ावा:

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि एम्स बनने से प्रदेश में पर्यटन कारोबार को भी बढ़ावा मिलेगा। क्योंकि सूबे में देश-विदेश के लाखों सैलानी आते हैं।

लेकिन स्वास्थ्य व सड़क सुविधा बेहतर न होने के कारण पर्यटन पर भी प्रभाव पड़ता था। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। एम्स और एनएच बनने से प्रदेश के पर्यटन कारोबार को पंख लगेंगे।

ये भी पढ़ें : 5 साल तक बिजली मुफ़्त देगी मोदी सरकार, किसे और कैसे? जानिए आज प्रारम्भ हुई “सौभाग्य योजना” को

सौभाग्य योजना के तहत हर घर को बिजली का कनेक्शन:

प्रधानमंत्री ने कहा कि पीएम सौभाग्य योजना के तहत हर घर को बिजली का कनेक्शन दिया जाएगा। भारत का कोई गांव ऐसा नहीं रहेगा जिसमें बिजली नहीं होगी।

हर घर तक बिजली पहुंचाने का पूरा खर्च सरकार करेगी। देश में चार करोड़ परिवार ऐसे है जिन्हें अभी तक बिजली के कनेक्शन नहीं मिले हैं।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *