भारतीय लोकतंत्र में पहली बार आम जनमानस के दिलों पर राज करने वाला कोई नेता हुआ है तो वह हैं नरेंद्र मोदी. 2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान मोदी जी के नाम की इतनी लहर उठी की उसके आगे राजनीति के हर योधा का किला धवस्त हो गया. मोदी सुनामी का सिलसिला अभी थमा नहीं है लगभग पिछले तीन सालों से विरोधियों पर जबरदस्त कहर बरपा रहा है. देश में 2 तिहाई से जायदा राज्यों की सत्ता पर काबिज हो चुकी भाजपा अब आगे हिमाचल और गुजरात में होने वाले चुनावों में भी जीत का परचम लहराने के उद्देश्य से चुनावी मैदान में कूद पड़ी है.

मोदी लहर से हिमाचल प्रदेश भी अछूता नहीं रहा. शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस को उस समय तगड़ा झटका लगा, जब पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता दीपक शर्मा ने भाजपा का दामन थाम लिया. हमीरपुर में आयोजित माफिया हटाओ प्रदेश बचाओ रैली के अवसर पर दीपक शर्मा को भाजपा नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल, सांसद अनुराग ठाकुर व प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती की मौजूदगी में शाामिल किया गया.

इन दिनों मोदी लहर में कई सालों तक कर्मठ कार्यकर्ताओं में शुमार नेता भाजपा का दामन थाम रहे हैं. अभी हाल ही में यूपीए सरकार के विदेश मंत्री रहे एस एम कृष्णा ने अपनी 40 वर्ष की राजनीती के बाद कांग्रेस को छोड़ दिया और भाजपा की सदस्यता को ग्रहण कर लिया था. इसी नक्शे कदम पर चलते हुए हमीरपुर हिमाचल प्रदेश से कांग्रेस के नेता व पूर्व प्रवक्ता दीपक शर्मा ने भी शुक्रवार को भाजपा का दामन थाम लिया.

 

बता दें कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता दीपक शर्मा का हमीरपुर जिला में खासा जनाधार रहा है. हमीरपुर जिला में ही भोरंज में होने जा रहे उपचुनावों से एन पहले दीपक शर्मा का पार्टी से जाना किसी झटके से कम नहीं है. उन्होंने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से 22 मार्च को त्यागपत्र दे दिया था. कांग्रेस की प्रदेश प्रभारी अंबिका सोनी को भेजे त्यागपत्र में उन्होंने प्रदेश कांग्रेस के एक वरिष्ठ पदाधिकारी पर कई आरोप लगाए थे. त्यागपत्र देने के साथ ही उनके बीजेपी में जाने की अटकलें लगाए जा रही थी. दीपक शर्मा 9 तक प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता पद पर रहे हैं.

इस अवसर पर अपने संबोधन में नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि सरकार के पास प्रदेश के लिये न तो कोई निति है ना ही कार्यक्रम.कांग्रेस एक डूबता हुआ जहाज है. उन्होंने दीपक शर्मा  की सराहना करते हुये बीजेपी में स्वागत किया और दावा किया कि हिमाचल में आने वाले दिनों में और भी कांग्रेस के कुछ बड़े नेता भाजपा में आयेंगे. उन्होंने कहा कि देवभूमि के नाम से विश्व भर में पहचान बनाने वाले प्रदेश को कांग्रेस सरकार ने माफियाओं का प्रदेश बना कर रख दिया है जिसमें कानून-व्यवस्था भगवान भरोसे की चल रही है. धर्मशाला में दूसरी राजधानी व बेरोजगारी भत्ते की घोषणा को महज छलावा बताते हुए धूमल ने कहा कि न तो प्रदेश सरकार की धर्मशाला को दूसरी राजधानी बनाने की मंशा है और न ही बेरोजगारों को भत्ता देने की क्योंकि दोनों के लिए बजट को प्रावधान ही नहीं किया गया है.

सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा ने देश में सुशासन का नारा दिया था और लगभग तीन वर्षों के उपरान्त भाजपा पर एक भी दाग नहीं लग पाया और हाल ही सम्पन्न हुए पांच राज्यों के चुनावों में से चार पर जीत दर्ज करवा लोगों ने भाजपा की नीतियों पर मुहर लगा दी है जिसकी चर्चा देश में ही नहीं बल्कि विदेशी मीडिया में भी हो रही है. कांग्रेस के पास अब देश की जनता को बताने के लिए कुछ नहीं है क्यूंकि जनता उनके खोखले वादों की राजनीति को पहचान चुकी है.जनता को पता चल गया है की पूरे देश को कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने कैसे लूटा है .इसके कई उदहारण सामने आ चुके हैं . इसलिए कांग्रेस पार्टी अब पीएम मोदी पर तरह तरह के झूठे इलज़ाम लगाकर लोगों का ध्यान भाजपा की विकास की राजनीती से भटकाना चाहती है जिसमे वो सफल होती दिखाई नहीं दे रही.

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *