5 साल तक बिजली मुफ़्त देगी मोदी सरकार, किसे और कैसे? जानिए आज प्रारम्भ हुई “सौभाग्य योजना” को


प्रधानमंत्री मोदी ने किया नई योजना का ऐलान :

प्रधानमंत्री मोदी ने देश के हर घर में बिजली पहुंचाने के लिए नई योजना का ऐलान किया। इसके तहत सरकार गरीबों को मुफ्त में बिजली कनेक्शन देगी।  इस योजना को 2019 के चुनावों से पहले पूरा किया जाएगा। सोमवार शाम को बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक के बाद पीएम मोदी ने इस योजना का उद्घाटन किया। इस नई योजना का नाम ‘सौभाग्य योजना’ है। पीएम मोदी ने उम्मीद जताते हुए कहा कि सौभाग्य योजना से समाज के बीच बड़ा असंतुलन खत्म होगा।

सौभाग्य योजना

इस योजना के तहत गांवों और दूरदराज के इलाकों में रहने वाले करीब 3 करोड़ गरीबों को फायदा होगा। ओएनजीसी के मुख्यालय दीनदयाल उर्जा भवन में आयोजित इस समारोह में उर्जा मंत्री आर के सिंह ने कहा कि हालांकि सौभाग्य योजना को पूरा करने का लक्ष्य 31 मार्च 2019 रखा गया है। लेकिन इसे 31 दिसंबर 2018 तक ही पूरा कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें : बड़ी ख़बर: मोदी लहर से हिलने लगी इस प्रदेश की भी राजनीति, राहुल व सोनिया गायब, कांग्रेस सदमे में !

16 हजार करोड़ रुपए खर्च करेगी मोदी सरकार “सौभाग्य योजना” के लिए :


प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस योजना में 16320 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।  शहर और गांवों के गरीबों को ‘सौभाग्य योजना’ का फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा, कि गरीब का सपना मेरी सरकार का सपना है। पिछले वर्ष आज के ही दिन हमने गरीब कल्याण वर्ष शुरू किया था। उन्होंने कहा कि किसने सोचा था?  क्या कि कभी ऐसी सरकार आएगी, जो 30 करोड़ गरीबों के लिए बैंक खाते खुलवाएगी।

इस योजना के तहत 2011 के सामाजिक, आर्थिक और जाति जनगणना में दर्ज गरीबों को मुफ्त में बिजली कनेक्शन दिया जाएगा। जिसका नाम इस सूची में नहीं है वह 500 रुपए में अपना कनेक्शन लगवा पाएंगे। इस रकम को 10 किस्तों में बिजली बिल के रुप में लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें : पीएम नरेंद्र मोदी ने जन्मदिन पर लिया मां का आशीर्वाद, राष्ट्र को समर्पित करेंगे सरदार सरोवर बांध

14 हजार करोड़ ग्रामीण इलाकों में खर्च होंगे :


ग्रामीण इलाकों में इस योजना पर 14025 करोड़ खर्च होंगे। वहीं, शहरी आवास में 1732 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इससे शहर और गांव के गरीब लोगों को फायदा होगा। योजना के तहत सरकार पांच साल तक बिलजी की मरम्मत का खर्च उठाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैंने भी लालटेन में पढ़ाई की है। आज भी चार करोड़ घरों में बच्चे लालटेन की रोशनी में पढ़ रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि नई दिशा के लिए पुरानी परंपरा को छोड़ना पड़ता है। पुराने ढर्रे, पुरानी परंपराओं से काम नहीं होगा।

सौभाग्य के तहत बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, ओडिशा, जम्मू-कश्मीर, राजस्थान और उत्तर-पूर्व के राज्यों को खास तवज्जो दिया जाएगा। गांवों के गरीबों को बिजली के लिए राज्य सरकारों को सब्सिडी की व्यवस्था भी की जा रही है। इस योजना के तहत 3 करोड गरीब लोगों को फायदा पहुंचीने का लक्ष्य है।

एलईडी लाइट, एक बैट्री, और एक पंखा भी मिलेगा :

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस योजना से देश के तीन करोड़ गरीब लोगों को फायदा मिलेगा।  योजना के तहत फ्री बिजली कनेक्शन के साथ पांच एलईडी लाइट, एक पंखा और एक बैट्री भी दी जाएगी।  पीएम ने कहा कि सरकार की हर योजना में गरीब का कल्याण दिखाई देगा।  नये भारत के हर घर में बिजली की सुविधा होगी।

 

आखिर क्या है? ‘सौभाग्य योजना’ पूरी जानकारी पढ़ें :



‘सौभाग्य योजना के तहत’ तहत ट्रांसफॉर्मर्स, मीटर्स और तारों के लिए भी सब्सिडी मिलेगी।

केंद्र ने राज्य सरकारों से बिजलीकरण के प्रॉजेक्ट्स तैयार करने को कहा है, जिनके लिए केंद्र सहमति देने के बाद फंड जारी कर देगी।

अधिकतर उपभोक्ता प्रीपेड बिजली कनेक्शन पर शिफ्ट होंगे जिससे बिजली कंपनियों को हुए घाटे की भरपाई हो जाएगी।

इसके अलावा बिजली की मांग को पूरा करने के लिए सरकार एनटीपीसी की क्षमता को बढ़ाने पर जोर दे रही है।

राज्य सरकारों की बिजली मांग को पूरा करने के लिए सरकार पावर पर्चेज अग्रीमेंट्स को बढ़ावा देने पर विचार कर रही है।

 


Related posts

Leave a Comment