मानहानि का मुकदमा झेल रहे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हाल ही में बिक्रम मजीठिया से माफी मांगने के बाद उन्होंने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल से भी माफी मांग ली। आम आदमी पार्टी में भले ही केजरीवाल की इस माफी से नाराजगी चल रही हो और बगावत हो गई हो, लेकिन दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि वे उन सभी लोगों से माफी मांगेंगे, जिन्हें उन्होंने दुख पहुंचाया है।

गडकरी को भ्रष्ट बुलाने के कारण उन्होंने केजरीवाल पर मानहानि केस दायर किया था। इसी केस में सोमवार को दिल्ली के सीएम ने केंद्रीय मंत्री से माफी मांग ली है। सूत्रों का कहना है कि अनौपचारिक तौर पर केजरीवाल ने पिछले साल ही नितिन गडकरी से अपने व्यवहार के लिए अफसोस जाहिर किया था।

यह भी पढ़ें: इंजीनियर पोर्न साईट पर डालता था पत्नी के सेक्स वीडियो, पुलिस ने किया गिरफ्तार

केजरीवाल ने माफी के लिए दो अलग-अलग पत्र लिखे. उन्होंने लिखा कि उन्हें सत्यापन के बिना टिप्पणियां करने का खेद है और वह स्वीकार करते हैं कि ये‘‘ निराधार आरोप’’ थे. अमित सिब्बल ने साल 2013 में मामला दर्ज कराया था. उन्होंने आरोप लगाया था कि केजरीवाल, सिसोदिया, भूषण और उस समय आप की सदस्य रहीं शाजिया ने वोडाफोन कर मामले में उन्हें और उनके पिता कपिल सिब्बल को निशाना बनाया था. वहीं केजरीवाल ने नितिन गडकरी को भारत के सबसे भ्रष्ट लोगों में एक बताया था जिसके चलते गडकरी ने उन पर मानहानि का केस किया था।

बता दें कि तीन दिन पहले अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के अकाली दल नेता बिक्रम मजीठिया को पत्र लिखकर माफी मांगी थी. केजरीवाल की माफी के बाद पंजाब आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता और विधायक उनसे नाराज हो गए थे. कई विधायकों ने इस्तीफा देने का फैसला कर लिया था हालांकि रविवार शाम दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर हुई बैठक के बाद आप नेताओं की नाराजगी दूर हुई. केजरीवाल ने सोमवार को नितिन गडकरी और अमित सिब्बल से माफी मांगी थी.

यह भी पढ़ें: कपिल का नया शो शुरू होने से पहले ही खड़ी हुई नई मुसीबत, ये कॉमेडियन बिग बॉस विनर के साथ ला रहा नया शो

सूत्रों ने यह भी बताया कि गडकरी और उनके सहयोगियों से केजरीवाल की कई बार मुलाकात और औपचारिक बातचीत हुई जिसके बाद आखिरकार दोनों पक्ष नतीजे तक पहुंच सके। दोनों पक्षों के बीच बातचीत काफी समय चली। माफीनामे के लिए शब्दों के प्रयोग को लेकर जब आखिरी फैसला हुआ, उसके बाद ही दोनों पक्ष ही लिखित माफीनामे की सहमति तक पहुंच सके।

माफीनामे में केजरीवाल ने जिक्र किया है कि उन्होंने गडकरी पर बिना प्रमाणों और जांच-पड़ताल के ही आरोप लगाए थे।’ सूत्रों ने यह भी बताया कि गडकरी ने केजरीवाल को सलाह दी है कि वह अपने जिम्मेदारियों के निर्वाह पर ध्यान दें और इसके लिए दूसरे मानहानि केस में भी माफी मांगकर आगे बढ़ें। सूत्रों का कहना है कि 33 मानहानि मुकदमे केजरीवाल पर हैं और वह उन सभी का निपटारा कोर्ट के बाहर ही करना चाहते हैं।

केजरी की माफ़ी को लेकर ट्विटर पर मौज-

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *