प्यार का इस दुनिया मे अस्तित्व तभी से है जब से इस दुनिया की शुरुआत हुई। बचपन से ही हम ऐसे कहनियाँ पढ़ते और  सुनते आ रहे हैं जिन्होने अपनी एक अलग पहचान बनाई और वो अमर हो गयी ।

Source-Gajabpost

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *