अगर आप एंड्रॉइड फोन यूजर हैं तो आपने महसूस किया होगा कि फोन खरीदने के कुछ महीनों बाद ही आपका फोन पहले के मुकाबले थोड़ा स्‍लो हो गया है। जैसे, जब आप फोन पर एक app से दूसरे app पर जाना चाहते हैं या कोई काम कर होम स्‍क्रीन पर लौटना चाहते हैं तो यह पहले के मुकाबले थोड़ा अधिक समय लेता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि फोन को स्लो होने कैसे बचाया जा सकता है।

क्या कभी आपके साथ ऐसा हुआ है कि आप अपने फ़ोन पर बहुत जरुरी काम करने में व्यस्त हैं और अचानक ही आपका फ़ोन हैंग होना शुरू कर गया हो? और आप जो काम कर रहे हैं वह बहुत ही ज्यादा इम्पोर्टेंट है और आप उसे कर ही नहीं पा रहे हैं। क्योंकि आपके फ़ोन ने काम करना बंद कर दिया है। वह इतना हैंग होना शुरू कर दिया है, कि आप उस फ़ोन को री-स्टार्ट किये बिना कोई काम नहीं कर सकते हैं।

हम जानते हैं, कि आप कई बार ऐसी स्थिति में फंसे होंगे।  कई बार आपको किसी को जरुरी कॉल करनी है और आपका फ़ोन आपको हेंग हो रहा है। वह बहुत ही अधिक स्लो हो गया है। बहुत बार ऐसी कई समस्याएं अचानक ही हमारे सामने आ जाती हैं। जब उन्हें नहीं आना चाहिए। और इस स्थिति में लोगों ने आजकल डबल खर्चे करना शुरू कर दिए है दो-दो फ़ोन रखते है।अपने स्मार्ट फ़ोन को सुपर फ़ास्ट कैसे बनाये यह सीखे ना की अपने खर्चे बढाएं।

यह भी पढ़ें :16 Extremely Useful Everyday Hacks Which Will Make Your Life A Whole Lot Easier

इसके अलावा अगर आप निरंतर अपने फ़ोन को लेकर परेशान हो गए हैं। उसके स्लो होने से आपको बहुत सारी अन्य समस्याएं आने लगी हैं, तो अब आपको परेशान होने की या अपना फ़ोन बदलने की कोई जरूरत नहीं है। क्योंकि यहाँ हम आपके लिए कुछ ऐसे आसान से उपाए ले आये हैं जो इस समस्या से कुछ ही मिनटों में निजात दिला सकते हैं।

अब आपको लगेगा कि आखिर ऐसा क्या करना होगा। कुछ तो शायद आपको भी पता होगा। जैसे फ़ोन के बेकग्राउंड ऐप्स को बंद करके आप अपने फ़ोन को फिर से कुछ समय के लिए सही प्रकार से चला सकते हैं। और इससे फ़ोन के गर्म होने की भी समस्या समाप्त हो जाती है लेकिन आपको ऐसा कुछ नहीं करना है इसके अलावा आपको हम कुछ ऐसे उपाए बताने वाले हैं जो इससे भी कहीं ज्यादा आसान है।

हर फोन में इंटरनल मेमोरी नियत होती है। आपके फोन की इंटरनल मेमोरी में जितना space होगा, फोन उतना ही अच्‍छा काम करेगा। कई बार फोन में बहुत सारे photos, music या apps होते हैं, जिस कारण फोन स्लो हो जाता है।
ऐसे में आप चाहें तो photos, music और data को फोन से हटाकर Dropbox या Google Drive cloud स्‍टोरेज सर्विस पर स्‍टोर कर सकते हैं। इसके साथ ही वैसे apps जिनका इस्‍तेमाल आप नहीं या कम करते हैं उन्‍हें uninstall कर इंटरनल मेमोरी को खाली कर सकते हैं।
कुछ जरुरी बातें जिन पर आपको विशेष ध्यान देना होगा:-

1. RAM का क्या काम और क्यूँ करें क्लियर :

स्मार्टफोन के इस दौर में रैम की भूमिका बढ़ गई है। अक्सर यूजर फोन खरीदते समय ये बात तो जरूर पूछता है, कि इसमें रैम कितनी है। लेकिन अधिकांश लोगों को ये नहीं पता होता है कि फोन में रैम की क्या भूमिका होती है।

कम्प्यूटर की तरह स्मार्टफोन की स्पीड भी रैम की क्षमता पर निर्भर करती है। रैम का काम रन टाइम में मेमोरी को स्टोर करना है, जो डिवाइस के बंद होते ही क्लियर हो जाती है।

चूंकि हमारा फोन अक्सर ऑन रहता है। इसीलिए जरूरी है, कि हम इसे समय-समय पर क्लियर करते रहें। इससे आपका फोन हैंग होने और गर्म होने से बच सकता है।

2. जरूरी ऐप को दें फोन में जगह :

जब तक आपका स्मार्टफोन ऑन रहता है, तब तक उसका प्रोसेसर एक्टिव रहता है। बहुत सारे ऐप ऐसे है जो फोन ऑन रहने पर हमेशा चलते रहते हैं चाहे आप उन्हें यूज कर रहे हैं या नहीं।

ऐप के एक्टिव होने की वजह से इसका असर आपके स्मार्टफोन पर पड़ता है। रैम में ज्यादा ऐप्लिकेशन होने की वजह से प्रोसेसिंग स्पीड स्लो हो जाती है और आपका फोन धीरे-धीरे हैंग होने लगता है।

3. जरुरी बात हमेशा चार्जर में ना लगाएं अपना फोन :

जितनी देर तक हम फ़ोन को यूज़ करेंगे बैटरी उतनी ही ज्यादा खत्म होगी, इसीलिए जरूरी है, कि हम अपने स्मार्टफोन की बैटरी के डॉउन होने का इंतजार करें। जब तक उसकी क्षमता 10 फीसदी या उससे नीचे नहीं चली जाए तब तक आप उसे चार्ज में नहीं लगाएं।

जिस तरह से पेट भरे होने के बावजूद खाना खाने से उल्टी की नौबत आ जाती है। उसी तरह चार्ज बैटरी को चार्ज करने पर वो गर्म हो जाती है।

4. पावर सेविंग मोड फीचर का इस्तेमाल करें :

आजकल हर स्मार्टफोन को ‘पावर सेविंग मोड’ फीचर से लैस किया जा रहा है, जिसका उपयोग अधिकांश लोग नहीं करते हैं। इस मोड में जरूरी ऐप ही एक्टिव रह पाते हैं। जिस वजह से आपका फोन हैंग होने से बचता है। पावर सेविंग मोड में बैटरी की क्षमता में भी इजाफा होता है।

5. दिन में कम से कम आधे घंटे के लिए फोन को ऑफ रखें :

रात को सोते समय या किसी भी समय कम से कम आधे घंटे के लिए अपने स्मार्टफोन को ऑफ कर दें, जिससे फोन के प्रोसेसर, रैम और बैटरी स्लीप मोड में चले जाएं। इसका फायदा यह होगा कि आपके फोन की प्रोसेसिंग स्पीड कभी कम नहीं होगी और आप लंबे समय के लिए टेक्नीशियन से दूर रहेंगे।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *