diarrhea during teething

दांत निकलने के दौरान तकलीफ की वजह से बच्चे काफी परेशान करते हैं, रोते हैं, दूध नहीं पीते। माँ बाप को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। दांत निकलना किसी भी बच्चे के जिंदगी का एक महत्वपूर्ण पड़ाव है।

मगर जिंदगी का यह महत्वपूर्ण पड़ाव आपके बच्चे के लिए इतना आसान भी नहीं। दांत का निकलना आप के बच्चे का लिए काफी तकलीफों भरा दौर होता है। बच्चों में दांत निकलते वक्त लक्षण अलग अलग तरह के हो सकते हैं। बुखार, उल्टी और दस्त कुछ गंभीर लक्षणों में से एक हैं।

हर बच्चे को कभी न कभी इस तकलीफ से गुजरना पड़ता है। यह समय माँ-बाप के लिए भी चिंता का समय होता है।

यह भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं?आपके शिशु के लिए खतरनाक है,तकिये का इस्तेमाल….

दांत निकलते वक्त बच्चों को उल्टी और दस्त क्यूँ होता है? 

दांत निकलने की वजह से बच्चे के मसूड़ों में सूजन और दर्द रहेगा, मगर शरीर के बाकि अंगों पर इसका इतना प्रभाव नहीं पड़ेगा की उल्टी और दस्त हो।

vomiting while teething

दांत निकलते वक्त बच्चों मसूड़ों की त्वचा बेहद संवेदनशील हो जाती है। इस वजह से जो भी चीज़ बच्चे के पास होती है वह उसे उठाकर मुँह में डालने की कोशिश करता है।

गन्दी वस्तुएं उनसे दूर रखें:

कई बार बच्चे गन्दी वस्तु जो बैक्टीरिया और वायरस द्वारा संक्रमित होती हैं उन्हें मुँह में डाल लेते हैं और उनका पेट संक्रमित हो जाता है। नतीजन उन्हें उल्टी और दस्त शुरू हो जाता है। 

teething

उल्टी और दस्त होने की स्थिति में डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें ताकि संक्रमण का इलाज किया जा सके। कुछ बच्चे अत्यधिक मात्रा में लार चुआते हैं जिसकी वजह से संक्रमण फ़ैल जाता है और बच्चे बीमार पड़ जाते हैं। दांत निकलते वक्त बच्चों का ख्याल रखें और हर गन्दी वस्तुएं उनसे दूर रखें। 

बच्चों के दांत निकलने की उम्र:

छ: से सात महीने की उम्र से कुछ बच्चों के दांत निकलने शुरू हो जाते हैं। कुछ बच्चों में दांत देर में निकलते हैं। अगर आप के बच्चे के दांत निकलने में काफी समय लग रहा है तो चिंता न करें।

यह भी पढ़ें: अगर आप सुपर माँ हैं-तो जानें कैसे जहर है,डिब्बाबंद दूध आपके नवजात शिशु के लिए !

शोध में यह पाया गया है की दांतों का देर से निकलना बच्चे के शारीरक विकास को प्रभावित नहीं करता। तथा यह बच्चे में किसी पोषक तत्त्व के कमी को भी नहीं दर्शाता है। 

दांत निकलने के पहले के लक्षण: 

कभी कभी दांत निकलने से पहले बच्चे अजीबोगरीब तरह से बर्ताव करने लगते हैं। जैसे की चिड़चिड़ापन, जिद्द करना। दांत निकलने के पहले के कुछ मुख्या लक्षण इस तरह हैं

chidchidapan

खांसी, लार टपकना, सोने में परेशानी, तरल आहार ना खाना, उल्टी, दस्त, संवेदनशील त्वचा, तेज़ बुखार

दांत निकलने के दौरान बच्चों में उल्टी और दस्त कैसे रोकें:

दस्त बच्चों को बेहद कमजोर कर देता है। उनके शरीर में पानी की कमी हो जाती है जो की चिंता का विषय है। आप को ऐसे कदम उठाने पड़ेंगे ताकि आप के बच्चे के शरीर में पानी की कमी को तुरंत पूरा किया जा सके।

यह भी पढ़ें: अगर आपका शिशु हो रहा है कमजोर, तो हो सकते हैं ये कारण….

समय पे लिया गया कदम आपके बच्चे को गंभीर परिणामों से बचा सकता है। बच्चे में दस्त के दौरान इन बातों का रखें ख्याल।

शरीर में पानी की कमी को पूरा करें: 

बच्चे को ORS का घोल पैकेट पर दिए गए निर्देशों के अनुसार तुरंत देना प्रारम्भ करें। हर बीस से पचीस मिनिट पर देतें रहें। ORS ना मिलने की स्थिति में आप इसे घर पर ही तैयार कर सकते हैं।

baby

आठ छोटा चम्मच चीनी, एक छोटा चम्मच नमक को एक लीटर पानी में घोलें और बच्चे को थोड़े थोड़े समयांतराल पे पिलायें। 

यह भी पढ़ें: क्या आप जानते है- बेबी को दूध से बने प्रोडक्ट कब खिलाने चाहिए !

ग्राइप वाटर दांत निकलते वक्त होने वाले दस्त के दौरान इस विशेष दवा को दिया जाता है। यह बच्चे को देते रहें। पेट से जुड़ी समस्या के लिए लाभकारी है ।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *