छुट्टियाँ मतलब मौज मस्ती :

बच्चों को छुट्टियाँ बहुत पसंद होती है। मगर दोस्तों बहुत बार ऐसा होता है की बच्चों की छुटियाँ पड़ जाती है पर हम उन्हें कही बाहर घुमाने नहीं ले जा सकते । कभी कभी हम छुट्टियों का प्लान कर ही रहे होते है,कि  बॉस पहले ही हॉलिडे पर निकल जाते है। हमे बहुत सारा कंपनी का काम दे कर  और कभी कभी पैसो की कमी की वजह से भी हम कही घुमने नहीं जा पाते। तो अब ऐसा क्या करे की बच्चे घर पर भी रहे और बोर भी न हो और कुछ नया  सिख भी पाए।

आइए हम आपको बताते है कुछ ऐसे तरीके जिससे बच्चे घर रह कर भी अब नहीं होंगे बोर :

 बच्चों की प्रतिभा को पहचाना आपका फर्ज़ :

अब गर्मियों की छुटियाँ आ रही है। इन छुट्टियों में घर रह कर ही सिखएंगे कुछ नया और बनायेंगे छुट्टियों को मज़ेदार। दोस्तों यही वो वक्त होता है जब हम बच्चों को कुछ अलग सिखा सकते है। जो लोग शहर में रहते है उनके पास तो बहुत आप्शन होते है। जैसे की समर कैंप, क्लब मेम्बरशिप आदि बच्चे की  रूचि जान ले की उसका इंटरेस्ट किस में है। कई बच्चे डांस अच्छा करते हैं, कुछ पेंटिंग कर लेते है,और कुछ को खाना बनाने में भी इंटरेस्ट होगा तो उनकी पसंद के हिसाब से उन्हें समर कैंप भेजे इससे बच्चे  सारा दिन व्यस्त रहेंगे। कुछ नया सीखने की भी कोशिश करेंगे।

ये भी पढ़ें : इन गर्मियों की छुटियों में फुर्सत के पल्लों को बच्चों की पढाई के प्रति उनकी रूचि कैसे बढाएं :

कुछ माता पिता जो अपने बच्चों को समर कैंप भी नहीं भेज सकते वो घर पर ही कुछ मजेदार इंतजाम करें , जैसे की बाथरूम टब विग्रह ला कर पानी भर कर बच्चो के एक दो दोस्तों को बुला कर उनको मजे कराए बीच-बीच में आईस क्रीम या स्नैक्स दे कर उन्हें स्पेशल फील कराये। अगर आपके घर के सामने छोटी सी जगह है तो वहाँ पार्क बनाएं। जिस तरह बच्चें बाहर देखते है थोडा उस तरह का बच्चें खुश हो जाएँगे।

बच्चों के साथ उनका कार्टून शो देखे और समझाएँ :

अपने घर के छोटे छोटे कामो में बच्चों की मदद लें। इससे उनको लगेगा की उनका भी महत्व है।अगर बच्चे ज्यादा  टी.वी या मोबाइल में लगे रहते है, तो उनका समय निर्धारित करे पर बार- बार टोका टाकि न करें। इससे बच्चे चिडचिडे हो जाएँगे,आप खुद कभी-कभी उनके साथ उनका कार्टून शो देखे उन्हें अच्छा लगेगा।

ये भी पढ़ें : अपने बच्चे की प्रतिभा को कैसे पहचाने……….

कार्टून देखते -देखते ही उनको ये भी समझाएं कि जो आप देख रहे हो आप उनकी तरह बन जाओगे। आपको इसके आलावा अच्छी बातें सीखनी है तो न्यूज़ चेनल देखो आपको देश दुनियां में क्या हो रहा सब पता चलेगा । कार्टून देखने से आपका समय बर्वाद होगा। आपको एक बात ध्यान में रखनी होगी। जैसा कि आपको उपर हम बता चुके है कि बच्चों को टोकना नही ज्यादा……..

दूसरी बात आपको कभी-कभी घर में पड़ोस के  बच्चों को बुलाकर छोटी बड़ी पार्टी करवाते रहें । आपस में फैशन शो करवाए और सुबह शाम पार्क में ले जाकर अपना भारतीय खेल से परिचय अवश्य करवाए। याद है न अपने खेल जो आप बच्चपन में खेलते थे खो खो ,कबबड़ी आदि।

थोडा समय बजुर्गों के साथ भी जरुरी :

ये बहुत जरुरी है कि बच्चों को अपने दादा- दादी या नाना- नानी के घर भेजना उनको रिश्तों की पहचान करवाना। उन्हें फॅमिली वैल्यू के बारे में बताएं रिस्तेदारों से मिलवाये ताकि वो फॅमिली वैल्यू को समझ सके ,कभी-कभी बच्चों को खेत खलियानों में भी लेकर जाए पर्यावरण के बारे में जानकारी दें।

इससे उनकी जानकारी बढेगी और पर्यावरण को बनाये रखने में सहायता भी करेंगे। जब वो बड़े हो जायेंगे तो अपने दोस्तों को भी समझाएँगे। आखिरकार कल को उनको ही तो ये धरती संभालनी है। अपने बच्चों को सो-सो कर छुट्टियों को बर्बाद करने न दे उनसे क्रिएटिव काम करवाए ताकि उनके समय का सदुपयोग हो सके।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *