home remedies

गर्मी ने लगभग दस्तक दे दी है। अक्सर देखा जाता है, गर्मी में रहने पर बड़ों, बच्चों, यहां तक कि नवजात में भी घमौरी की समस्या हो जाती है।

घमौरी क्या है ?

घमौरी होने पर छोटे-छोटे चुभने वाले दानें पीठ, गर्दन तथा शरीर के अन्य हिस्सों पर निकल आते हैं। जिनमें अक्सर खुजली होती रहती है। कई बार पेट में कब्ज रहने के कारण भी शरीर पर घमौरी उभर सकती हैं।

घमौरी अक्सर गर्दन, बगल, पीठ पर निकलती हैं। यह रोग किसी भी व्यक्ति को लग सकता है। गर्म शहरों में रहने वाले लोग इसका ज्यादा शिकार होते हैं।

prickly heat

घमौरी होने की वजह :

नवजात शिशुओं में घमौरी अधिक निकलती है क्योंकि उन्हें पसीना अधिक आता है इसलिए उनमें बहुत सावधानी रखने की जरूरत होती है।

यह भी पढ़े : इस तरह खुजली से छुटकारा दिलाते हैं ये घरेलू नुस्खें !

शरीर की साफ सफाई उचित तरीके से नहीं होने कर कारण इन्फेक्शन की वजह से भी अलाइयाँ, घमौरी हो जाती है। सूती और ढीले कपड़े पहने जिससे हवा का सम्पर्क होता रहे।

sweat

टाइट कपड़े पहनने के कारण भी स्किन का पसीना अंदर दब जाता है और सूख भी नहीं पाता इससे घमौरी हो सकती हैं। इन बातों का ध्यान रखने से घमौरी से बचा जा सकता है।

कुछ सरल उपाय :

सूती और ढीले ढाले कपड़े पहनें। खूब पानी पिएं और नहाएं। बाहर से घर लौटने के कुछ देर बाद स्नान करें। शरीर के हिस्सों को ताज़ा हवा लगने दें। मसालेदार भोजन से बचें। सादा भोजन ही खाएं।

nariyal

रोजाना सुबह नीम की चार-पांच पत्तियां चबाएं। नीम की पत्तियों को पानी में उबालकर इस पानी से स्नान करें। नारियल के तेल में कपूर मिलाकर इस तेल से पूरे शरीर की मालिश करें।

कैलामाइन लोशन का प्रयोग करें। गीले शरीर पर पाऊडर ना लगाएं। जरूरत से ज्यादा पाऊडर का प्रयोग करने से भी बचें।

यह भी पढ़े :  एलर्जी से अपने आप को कैसे बचाए आओ जाने……………

मुल्तानी मिट्टी मिटाए खुजली :

मुल्तानी मिट्टी भी घमौरी से निजात दिलाने का एक अच्छा घरेलू नुस्खा है। मुल्तानी मिट्टी घमौरी की जलन से निजात दिलाती है। खुजली मिटाती है और ठंडक भी देती है।

ghmori

5 चम्मच मुल्तानी मिट्टी में गुलाब जल मिलाकर लेप बनाएं और इस लेप को प्रभावित स्थान पर लगाएं। इस उपाय को प्रतिदिन एक बार करें।

एलोवेरा का गूदा है मददगार :

एलोवेरा भी घमौरी से निजात के लिए बेहद अच्छा स्त्रोत है। एलोवेरा के पत्तों का गूदा लेकर प्रभावित स्थान पर लगाएं।

तकरीबन 20 मिनट लगा रहने दें और उसके बाद धो दें। प्रतिदिन दो बार ऐसा करने से घमौरियां ठीक हो जाएंगी।

ghritkumari

बेसन शरीर का तेल सोखने में सहायक :

बेसन शरीर का तेल सोख लेता है जिससे घमौरी के दाने जल्दी सूख जाते हैं। यह मृत त्वचा को भी साफ करता है और जलन से राहत देता है।

gram flour

यह भी पढ़े : फेस पैक से अपने चेहरे को कैसे बनाएं सुन्दर

बेसन की कुछ मात्रा में पानी मिलाकर लेप बनाएं। इस लेप को प्रभावित स्थान पर 10 से 15 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें। इस उपाय को हर रोज एक बार करें। एक सप्ताह में घमोरियां ठीक हो जाएंगी।

कच्चा आम शरीर की गर्मी को ठंडा करता है :

कच्चा आम शरीर की गर्मी को ठंडा करने में बेहद प्रभावशाली हैं। ऐसे में कच्चे आम का पन्ना (एक प्रकार का पेय) बनाकर पीने से गर्मी में राहत मिलती है।

raw mango

सरसों के तेल :

2 चम्मच सरसों के तेल में 2 चम्मच पानी मिलाकर सुबह और शाम मालिश करने से घमौरियाँ दूर हो जाती है।

यह भी पढ़े : जवां दिखना है तो खूब खाएं फल , पढ़े

संतरे के छिलके का पाउडर, गुलाबजल से मिलेगी राहत :

orange peel

संतरे के छिलकों को सुखाकर उसका पाउडर बना लें। इस पाउडर को गुलाबजल में मिक्स करके घमौरियों वाले जगह पर लगाने से घमौरियों में बेहद लाभ प्राप्त होता है।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *