vitamin & minerals

आज की जनरेशन की बात करें तो जो भोजन खाते हैं, उससे न ही पोषण मिलता और न ही स्वास्थ्य के लिए लाभकारी। हमारा आहार ही हमारे शरीर के लिए पोषण का स्रोत है। हमारे शरीर को विटामिन, खनिज जैसे कई पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है जो कई अंगों और प्रणालियों के कार्यों को बनाए रखने में मदद करते हैं।

ये पोषक तत्व हमारे शरीर को हानिकारक रोग पैदा करने वाले और पर्यावरण में मौजूद विषाक्त पदार्थों के प्रभावों से बचाते हैं जिससे हम कई रोगों से बचते हैं। हमारे शरीर के लिए जरुरी पोषक तत्व क्या है ?

पांच प्रकार के पोषक तत्व:

हमारे शरीर के लिए पांच प्रकार के पोषक तत्व आवश्यक हैं – प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फैट, विटामिन और मिनरल्स, फाइबर।

यह भी पढ़ें: भोजन करने का सही समय और कब, कैसे करें ………

ये हैं प्रोटीन से युक्त फल-सब्जी:

प्रोटीन में एमिनो एसिड होते हैं जो शरीर के ऊतकों को बनाने और उन्हें बनाए रखने में मदद करते हैं। हमारे शरीर में 20 प्रकार के एमिनो एसिड हैं जो शरीर की उचित कार्यप्रणाली के लिए बहुत ज़रूरी हैं। इनमें से 12 एमिनो एसिड का निर्माण शरीर में ही होता है और बाकी आठ एमिनो एसिड हमें भोजन से प्राप्त होते हैं।

protien

अनाज : दाल, फलियां, बीन्स,मूंगफली इत्यादि) में उचित मात्रा में प्रोटीन होता है।

सब्जी : मटर,पालक,मशरूम फूलगोभी आदि सब्जियों में प्रोटीन अच्छी मात्रा में पाया जाता है।

फल : केला, सेब, अमरुद आदि फलों में अच्छी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है।

फैट भी है जरुरी: 

फैट अपने विभिन्न कार्यों को पूरा करने के लिए शरीर को ऊर्जा देता है। वसा हमारे शरीर में अन्य पोषक तत्वों को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए भी आवश्यक है। मूल रूप से फैटी एसिड दो प्रकार के होते हैं – ओमेगा-3 फैटी एसिड और ओमेगा-6 फैटी एसिड।

diet

मूंगफली,घी, सरसों के तेल और जैतून का तेल, सोयाबीन, मकई और सूरजमुखी के तेलों में वसा अधिक होता है।

यह भी पढ़ें: भोजन का स्‍वाद बढ़ाये हाजमे को दुरुस्‍त बनाये कढ़ी पत्‍ता

कार्बोहाइड्रेट का सीमित मात्रा में सेवन:

कार्बोहाइड्रेट शरीर के लिए ऊर्जा का मुख्य स्रोत है और हमें अपने भोजन में कार्बोहाइड्रेट का भी सेवन करना चाहिए। लेकिन कार्बोहाइड्रेट के ज्यादा सेवन करने से मोटापा और मधुमेह जैसे कई रोग भी हो सकते हैं इसलिए कार्बोहाइड्रेट का सीमित मात्रा में सेवन करना चाहिए।

अनाज : ज्वार, मक्का, बाजरा, मोटे अनाज तथा चावल और दाल में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है।

सब्जी : आलू और जड़ वाली सब्जियों में उच्च मात्रा में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है।

फल : केला और अमरूद जैसे फलों में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है।

फाइबर युक्त फल-सब्जी:

हालांकि हमारा शरीर को फाइबर नहीं पचा पाता है पर फाइबर के सेवन से पाचन में सुधार होता है और यह कब्ज की समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।

अनाज : जौ, गेंहू, जई, मक्का,, रागी जैसे साबुत अनाज में फाइबर पाया जाता है

सब्जी : हरे मटर, ब्रोकली, मूली, पत्तागोभी आदि सब्जियों में फाइबर पाया जाता है।

फल : सेब, नाशपाती, रास्पबेरी जैसे फलों में फाइबर पाया जाता है।

protien

यह भी पढ़ें: भोजन सम्बन्धी कुछ नियम

विटामिन और मिनरल्स:

क्षमता को बनाए रखने में विटामिन और मिनरल्स की थोड़ी मात्रा में जरूरत होती है। इसलिए हमें अपने आहार में विटामिन और खनिजों का भी सेवन करना चाहिए।ये सारे पोषक तत्व हमें अनाज, फल, सब्जियां और तेल आदि के माध्यम से मिलते हैं।

सूखे मेवे खजूर ,मुनक्का आदि सूखे मेवों में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर पाया जाता है।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *