speaking-english

इस  article में  हम आपको  Spoken English सीखने  से  सम्बंधित  कुछ तरीके आपसे साँझा कर रहे है ,जो  हम आपको बता रहे है।  इससे  पूरी  तरह असहमत  भी  हो सकते  हैं। पर यदि  इससे  कुछ  लोगों  को  फायदा  पहुँचता  है, तो  मुझे  ख़ुशी  होगी।

इंग्लिश बोलना कैसे सीखे ? कैसे करे अपनी अंग्रेजी को improve ? यह एक ऐसा सवाल है, जो हम इन्टरनेट पर काफी ज्यादा सर्च करते है और इंग्लिश सिखने के लिए बहुत सारे आर्टिकल पढ़ते है‌‍।

ठीक उसी तरह इस पोस्ट में हमने  इंग्लिश बोलना कैसे सीखे उसके लिए कुछ स्टेप दिए है, जो आपकी इंग्लिश बोलने में मदद करेंगे। दोस्तों  हमारे  देश  में  अंग्रेजी  बोलना, सीखना एक बहुत बड़ा business है। ख़ास तौर पे छोटे शहरों में इसका कुछ ज्यादा ही craze है। आपको जगह -जगह  English Speaking से related ads दिख जायेंगे, “90 घंटे में अंग्रेजी बोलना सीखें,”, ”फर्राटेदार अंग्रेजी के लिए join करें कुछ बहुत तरह के पोस्टर लगे हुए देखने को मिलेंगे।

पोस्टर पर लिखे school एड्रेस सचमुच इतने effective हैं ? शायद नहीं। क्योंकि वो पहले ही गलत expectation set कर देते हैं । मात्र 90 घंटे   सीखकर किसी भाषा को आसानी  के साथ बोलना बहुत मुश्किल है। हाँ, ये हो सकता है कि कुछ दिन वहां जाकर आप पहले की अपेक्षा थोडा और  fluent हो जाएं ,पर ऐसे कम ही लोग होते हैं।

जो सचमुच अपनी इंग्लिश बोलने की काबीलियत का  श्रेय  ऐसे school को दे सकें.अगर आप पहले  से ठीक-ठाक अंग्रेजी बोल लेते हैं और तब ऐसी जगह जाते हैं। तो यह आपके लिए फायदेमंद हो सकता है, नहीं तो आपके लिए अच्छा होगा कि आप इस mindset के साथ जाइये कि ऐसे school में जाकर आप एक start कर सकते हैं पर यहाँ से निकलने के बाद  भी आपको काफी दिनों तक पूरी dedication के साथ लगे रहना होगा।

यह जो  कुछ easy स्टेप जो हम आपको बता रहे है ,इनको आप अच्छे से follow करो, क्योंकि इनको अगर आप अच्छे से follow नही करोगे तो आप इंग्लिश सिख नही पाओगे सबसे पहले आपको हम बताते कुछ मिथक जिस पर आप भी थोडा नज़र घुमा लो।

 

अंग्रेजी सीखने के लिए अंग्रेजी व्याकरण का ज्ञान होना बहुत जरुरी : 

 यह एक बहुत बड़ा सच है, आप ही सोचिये कि जब आपने हिंदी बोलना सीखा  तो क्या आपको संज्ञा,सर्वनाम, इत्यादि के बारे में पता था ? नहीं पता था,क्योंकि उसकी जरूरत ही नहीं पड़ी वो तो बस आपने दूसरों को देखकर -सुनकर सीख लिया उसी तरह अंग्रेजी बोलने के लिए भी Grammar की knowledge जरूरी  नहीं  है।

English Medium school से अच्छी शिक्षा मिलने के कारण कुछ बच्चे अच्छी  English बोल तो लेते है पर यदि उनसे कोई Tenses का  टेस्ट लें तो उनका उस टेस्ट में पास होना मुश्किल  होगा ।

थोड़े ही समय में अच्छी इंग्लिश सीखी जा सकती है :

 गलत !अपनी मात्र भाषा से अलग कोई भी भाषा सीखने में समय लगता है, कितना समय  लगेगा यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति पर डिपेंड करेगा.पर हमारा मानना है कि यदि कोई पहले से थोड़ी बहुत अंग्रेजी जानता है।

और वो  dedicated होकर effort करे तो 6 महीने  में अच्छी अंग्रेजी बोलना सीख सकता है.और यदि आप सीख ही रहे हैं। तो कामचलाऊ मत सीखिए अच्छी  English सीखिए।

इंग्लिश मध्यम से पढने वाले ही इंग्लिश सीख सकते है :

यह भी गलत है.अपने घर की ही बात करूँ तो मेरे बड़े भैया  ने Hindi Medium से पढाई  की है, पर आज वो बतौर Senior Consultant काम करते हैं, और बहुत अच्छी  English लिखते – बोलते  हैं।

यदि  आपको ऐसी schooling नहीं  मिली जहाँ आप अंग्रेजी बोलना सीख पाए तो उस पर अफ़सोस मत कीजिये,जो पहले हुआ वो past है, present तो आपके हाथ में है जो चीज आप  पहले नहीं सीख पाए वो अब सीख सकते हैं, in fact as an adult आप अपनी हर उपलब्धि या नाकामयाबी के लिए खुद जिम्मेदार हैं।

इंग्लिश बोलने के लिए अच्छी vocabulary का ज्ञान जरुरी है :

 नहीं,vocabularyजितनी अच्छी  है उतना अच्छा  है, पर  generally आम -बोल  चाल  में जितने words बोले जाते हैं,वो आपको पहले से ही पता होंगे या थोड़ी सी मेहनत से आप इन्हें जान जायेंगे. दरअसल हम जो words जानते  हैं बस उन्ही को सही जगह place करने की बात होती है।

कई बार लोगों को एक से एक कठिन words की meaning रटते देखा है,पर ऐसा करना आपकी energy ऐसी जगह लगाती है जहाँ लगाने की फिलहाल ज़रुरत नहीं है।

हमारा माहौल इंग्लिश बोलने के लिए कैसा हो :

 किसी भी भाषा को सीखने में जो एक चीज सबसे महत्त्वपूर्ण होती है वो है वो हमारा environment, हमारा माहौल.आखिर हम अपनी मात्र -भाषा छोटी सी ही उम्र  में कैसे बोलने लगते हैं :-

क्योंकि  24X7 हम ऐसे माहौल में रहते हैं जहाँ वही भाषा बोली,पढ़ी, और सुनी जाती है. इसीलिए अंग्रेजी बोलना सीखना है तो हमें यथा संभव अपने माहौल को English बना देना चाहिए.इसके लिए आप ऐसा कुछ कर सकते हैं:

हिंदी अखबार की जगह English Newspaper पढना शुरू कीजिये. हिंदी गानों की जगह अंग्रेजी गाने सुनिए.अपने interest के English program movies देखिये.अपने room को  जितना English बना सकते हैं बनाइये ….English posters, Hollywood actors,English books,Cds..जैसे:-  भी हो  जितना भी हो make it English.

इंग्लिश सीखने के लिए आपको ऐसे ग्रुप का चुनाव करना होगा जो आपकी तरह इंग्लिश सीखना चाहता हो:

कुछ ऐसे दोस्त खोजिये जो आप ही की  तरह अंग्रेजी बोलना सीखना चाहते हैं, अगर आपके घर में ही कोई ऐसा है तो फिर तो और भी अच्छा है.लेकिन अगर ना हो तो ऐसे लोगों को खोजिये, और वो जितना आपके घर के करीब हों उतना अच्छा है, ऐसे दोस्तों से अधिक से अधिक बात करें और सिर्फ English में.हाँ चाहें तो आप mobile पर  भी यही काम कर सकते हैं।

पहले दिन से ही आप सही इंग्लिश बोले यह जरुरी नहीं है : 

अगर आप ऐसा करेंगे तो आप इसी बात में उलझे रह जायेंगे की आप सही बोल रहे हैं या  गलत.पहला एक -दो  महिना बिना किसी tension के जो मुंह में आये बोले,ये ना सोचें कि आप grammatically correct हैं या नहीं. जरूरी है कि  आप धीरे -धीरे अपनी झिझक को मिटाएं औरइ दिन से ही सही इंग्लिश बोलने की कोशिश न करे क्यूंकि यह धीरे धीरे ठीक हो जाएगी ।

बोल कर और जोर जोर से पढ़े :

हर रोज आप अकेले या अपने group में तेज आवाज़ में English का कोई article या storyपढ़ें.बोल -बोल कर पढने से आपका pronunciation सही होगा,और बोलने में आत्मविश्वास भी बढेगा।

आप कोई भी बात हो उसको इंग्लिश में सोचना शुरू करें: 

जब इंसान मन कुछ सोचता है तो naturally वो अपनी मात्र भाषा में ही सोचता है.लेकिन  चूँकि आप English सीखने के लिए  committed हैं,  तो आप जो मन में सोचते हैं, उसे भी English में सोचें.यकीन जानिये आपके ये छोटे -छोटे efforts आपको तेजी से आपकी मंजिल तक पंहुचा देंगे।

ज्यदातर आप बच्चों की कॉमिक की बुक्स पढ़े इंग्लिश में :

बच्चों की English comics आपकी हेल्प कर सकती है, उसमे दिए गए pictures आपको story समझने में हेल्प करेंगे और simple sentence formation भी आम बोल चाल में बोले जाने वाले सेंटेंसेस पर आपकी पकड़ बना देंगे।

इन्टरनेट का प्रयोग आप अपनी इंग्लिश को improve करने के लिए कर सकते है :

आप स्पोकेन इंग्लिश सीखने के लिए इन्टरनेट का भरपूर प्रयोग करें. You Tube पर available  videos आपकी काफी हेल्प कर सकते हैं, सही pronounciation और meaning के लिए आप गूगल पर बहुत सारी डिक्शनरी दे रखी होती है उनका use कर सकते हैं।

कुछ इन्टरनेट में जो quotes होते हैं वो English और Hindi दोनों में होते हैं तो आप वहां से भी कुछ सीख सकते हैं और साथ ही महापुरुषों के अनमोल विचार भी जान सकते हैं. आपको उधर से भी बहुत हेल्प मिलेगी।

दोस्तों English एक universal language है, इसे दुनिया भर में अरबों लोग बोलते हैं, तो आप ही सोचिये जो काम अरबों लोग कर सकते हैं भला आप क्यों नहीं!!! बस इतना याद रखिये कि अंग्रेजी  बोलना सीखने का सबसे सरल तरीका है, “अंग्रेजी बोलना”  और इस लिए आपको ऐसे लोगों के साथ अधिक से अधिक  रहना चाहिए।

जिनसे आप इंग्लिश में बात कर सकते हैं,  अपनी झिझक मिटाइए और ऐसे हर एक मौके का फायदा उठाइए जहाँ आपको English बोलने का मौका मिल रहा हो.तो फिर देर किस बात की है बस लग जाइये अपने efforts में और अपने भाषा ज्ञान में अंग्रेजी भी जोड़ लीजिये।

 

 

 

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *