preschoolers

ये तो सब जानते हैं- बच्चे की पहली शिक्षा घर से ही शुरू होती है और उनके पहले गुरु होते हैं उनके माता-पिता। स्कूल जाने वाले बच्चों में अच्छी आदत केवल मां-बाप ही डाल सकते हैं।

अच्छी आदत का असर बच्चों के बड़े होने के साथ हमेशा रहती है जो उनके भावनात्मक, शारीरिक और संज्ञानात्मक कौशल पर पड़ता है।

जब छोटे बच्चे पढ़ने की उम्र में होते हैं और मां-बाप उनका एडमिशन स्कूल में करवाते हैं तो उनकी शिक्षा शुरु हो जाती है। इसलिये आपको थोड़ी सावधानी रख कर अपने स्कूल जाने वाले बच्चे को कुछ अच्छी आदतें सिखानी चाहिये।

यह भी पढ़ें : एग्जाम टिप्स : स्टूडेंट्स पढ़ाई के बीच जरूर लें ब्रेक, सेहत के लिए है अच्छा !

आपके बच्चों में अच्छी आदतों का होना बहुत जरुरी है क्योँकि ये आप के बच्चे को न केवल एक बेहतर इंसान बनने में मदद करता है बल्कि एक अच्छी सेहत भरी जिंदगी जीने में भी मदद करता है।

अपने शरीर की सफाई:

अपने बच्चेे में सबसे पहले यह आदत डालें कि वह अपने शरीर की सफाई रखे जैसे दाँतों की सफाई, नहाना, नेल्स की कटिंग, कुछ भी खाने से पहले और टॉयलेट जाने के बाद हैंडवाश करना, अपने कपड़ों को गन्दा ना करना।

good habit

मेहनत की आदत ताकि, आगे चलकर कतराए नहीं:

ऐसा कई घरों में होता होगा कि बच्चे को ज्यादा होमवर्क मिल जाए तो, घर के बड़े उसकी मदद कर देते हैं। ये ठीक नहीं कि बच्चे को आराम देकर आप ही उसका काम कर दें।

home work बच्चे को शुरु से ही मेहनत की आदत डलवानी चाहिए ताकि, वो आगे चलकर मेहनत करने से कतराए नहीं।

यह भी पढ़ें : प्रेरणा: पैरालाइज्ड होने के बाबजूद सालों से बिस्तर पर लेटकर चला रहीं हैं स्कूल

अपनी चीजों को सहेजकर रखना:

अक्सर बच्चे अपने कपड़े, खि‍लौने, किताबें और दूसरे सामान बिखेरकर रखते हैं लेकिन, इन आदतों को बचपन में ही सुधारने की जरुरत है। माता-पिता को चाहिए कि वो बच्चों को अपनी चीजों को सफाई और सहेजकर रखना सिखाएं।

things collect

ये आदत आगे चलकर उसके व्यक्तित्व के विकास में सहायक साबित होगी।

बड़े-बुजुर्गों का आदर:

बच्चे को दूसरों की इज्जत करना सिखाएं। इस बात पर ध्यान दें कि बच्चे को ना केवल बड़े-बुजुर्गों की ही इज्जत करना सिखाएं बल्कि हर मानव की इज्जत करना सिखाएं।

respect our elder

धैर्य, सब्र रखना:

कई बार बच्चे खि‍लौने या फिर किसी दूसरे सामान के लिए जिद करने लगते हैं और मां-बाप उन्हें शांत करने के लिए उनकी मांग पूरी कर देते हैं। ऐसी गलती नही करनी चाहिए। माता-पिता को चाहिए कि वो बच्चे को कुछ चीजों के लिए मना भी करें। इससे बच्चों में धैर्य की भावना आती है।

यह भी पढ़ें : बच्‍चे के स्‍कूल एडमिशन या फीस भरने के लिए चाहिए पैसा, तो यहां से मिलेगी 4 लाख तक की मदद

सबसे अच्छे से बात करना :

talk

अपने बच्चे को सबसे अच्छे से बात करना सिखाएं। बड़ों का अभिनन्दन और उनसे आशीर्वाद लेना। ये सभी आदतें आपके बच्चे को एक अच्छा इंसान बनने में मदद करेगी।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *