जानिए माँ दुर्गा के आठ अक्षर वाले सिद्ध मंत्र के फायदे, इसे जपने से पूरी होती है सभी मुरादें


मार्कण्डेय पुराण में ब्रह्माजी ने मनुष्यों के रक्षार्थ हेतु परमगोपनीय साधन, कल्याणकारी देवी कवच एवं परम पवित्र उपाय संपूर्ण प्राणियों को बताया, जो देवी की नौ मूर्तियां-स्वरूप हैं, जिन्हें ‘नवदुर्गा’ कहा जाता है। उनकी आराधना प्रतिपदा से महानवमी तक की जाती है।

 

maa durga

 

प्रत्येक मनुष्य को अच्छे स्वास्थ्य व खुशहाल जीवन की कामना होती है। हर कोई ये कोशिश करता है कि वो अपने परिवार की जीविका के लिए उचित संसाधन इकट्ठा कर सके ताकि जीवन अच्छे से चलता रहे। उनका परिवार दुखो से दूर रहकर खुशहाल जीवन व्यतीत करे। ऐसे में आज हम आपको देवी दुर्गा के उस मंत्र के बारे में बताने जा रहे है जिसके जाप से आप अपने जीवन को नई दिशा दे सकते हैं।

 

maa durga

 

आस्था एवं भक्ति का महापर्व नवरात्र शुरू हो चुका हैं। सभी भक्त अपनी अपनी श्रद्धा के अनुसार मातारानी की पूजा अर्चना करने में लगे हुए हैं। ऐसे में हम आपको बताते है देवी मां के एक ऐसे मंत्र के बारे में जिसके जाप से बदहाली, रोग, कर्ज, शत्रु बाधा सब झट से खत्म हो जाती है। इस मंत्र के प्रताप से इंसान को सिद्धि, संतान, सफलता सभी की प्राप्ति हो जाती है।

 

maa durga

 
नवरात्रों में माता दुर्गा की उपासना के लिए आठ अक्षरों का एक अद्भुत मंत्र बताया गया है वो मंत्र है “ॐ ह्रीं दुं दुर्गायै नम:”  इस मंत्र को जपने का सबसे उत्तम एवं सरल उपाय है। इस मन्त्र के जाप के लिए शुक्रवार का दिन सबसे शुभ माना गया है। बैस आप चाहें तो प्रत्येक दिन इसका जाप कर सकते हैं। यह मंत्र सभी प्रकार की सिद्धिः को पाने में मदद करता है। यह मंत्र सबसे प्रभावी और गुप्त मंत्र माना जाता है और सभी उपयुक्त इच्छाओं को पूरा करने की शक्ति इस मंत्र में होती है।


Related posts

Leave a Comment