पाकिस्तान के पक्ष में बयानबाजी करते हुए :

कश्मीर मुद्दे को लेकर नेशनल कांफ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला के तल्ख तेवर बराबर बने हुए हैं। उन्होंने फिर से पाकिस्तान के पक्ष में बयानबाजी करते हुए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है।फारूक अब्दुल्ला ने कहा, तुम ने एक पाकिस्तान तो बना दिया है। और कितने पाकिस्तान बनाना चाहते हो। भारत के और कितने टुकड़े करना चाहते हो तुम?’

जम्मू में एक जनसभा को संबोधित करते हुए नेशनल कांफ्रेंस प्रमुख ने कहा, ‘हां मैंने कहा है कि पीओके पाकिस्तान का है और उन्होंने चूड़ियां नहीं पहन रखी है। उनके पास परमाणु बम भी हैं। क्या तुम चाहते हो कि वे हमारा खात्मा कर दें।’

ये भी पढ़ें :सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत का बयान सुन भड़के आतंकवादियों के नेता

अबदुल्ला ने आगे कहा, ‘तुम महलों में बैठे हो, गरीबों के बारे में भी सोचो जो बॉर्डर पर रह रहे हैं। जो रोजाना गोलियां और गोला-बारूद को सहते हैं।’ बता दें कि नेशनल कांफ्रेंस केंद्र की मोदी और प्रदेश की महबूबा सरकार से खुश नहीं हैं।

हिंदुस्तान सबका है। वो हिंदू हो, मुसलमान हो, सिख हो, ईसाई हो…..

फारूक अब्दुल्ला ने कश्मीर समाधान के लिए केंद्र द्वारा नियुक्त वार्ताकार दिनेश्वर शर्मा की पहल का भी विरोध किया था। अबदुल्ला का कहना था कि इस वार्ता से कुछ नहीं होने वाला है। भारत सरकार को इस मसले का हल निकालने के लिए पाकिस्तान से बातचीत शुरू करनी चाहिए।

इनके लीडर बयान देते हैं यूपी में। और मुसलमानों को धड़का मारते हैं कि खबरदार! तुमने हमें वोट नहीं दिया तो हम दिखा देंगे। लेकिन ये हिंदुस्तान तुम्हारे बाप का का नहीं है। ये हिंदुस्तान सबका है। वो हिंदू हो, मुसलमान हो, सिख हो, ईसाई हो… जो भी उसका धर्म है, उसका है। और उसकाे हक है। उसको आईनी हक है कि वो किसको वोट देना चाहता है और किसको नहीं देना चाहता।

ये भी पढ़ें :हिंडन एयरबेस में घुस रहे संदिग्ध शख्स को, सुरक्षाबलों ने मारी गोली

फारुक अब्दुल्ला का पाकिस्तान प्रेम जगजाहिर :

फारुक के बयान के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकारी मंडल के सदस्य इंद्रेश कुमार ने तल्ख टिप्पणी की और कहा कि वह पाकिस्तान से प्रेम करते है। रायपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में इंद्रेश कुमार ने कहा कि फारुक अब्दुल्ला का पाकिस्तान प्रेम जगजाहिर है। खाते तो हिंदुस्तान की हैं और गाते पाक की हैं।

ये भाई पढ़ें :यूएन प्रस्ताव स्वीकार करे तो भारत ISIS के खिलाफ कार्रवाई को तैयार: पर्रिकर

इंद्रेश ने साफ कहा कि ऐसे लोग कभी भी देश से गद्दारी कर सकते हैं। अब्दुल्ला खलनायक बन गए हैं। इंद्रेश ने सरकार से मांग की है कि फारुककी संसद सदस्यता खत्म करे। इंद्रेश ने यह भी कहा कि कोर्ट को चाहिए कि उनकी भारतीय नागरिकता भी रद कर दे। उन्होंने फारुक को सलाह दी कि वह पाकिस्तान चले जाएं।

(भाषा से इनपुट के साथ)

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *