कोलकाता की दुर्गा पूजा प्रसिद्ध है इस बार नवरात्र‍ि नौ दिनों की ही है और यह बेहद शुभ है।दशमी 30 सितंबर को है। कोलकाता के दुर्गा पंडालों की बात ही कुछ और ही होती है। कोलकाता दुर्गा पूजा के लिए सजकर तैयार हो गया है। हर साल  कोलकाता में नवरात्रों में लाखों रुपए खर्च करके पंडाल बनाए जाते हैं।

लेक टाउन, सॉल्ट लेक में सबसे महंगे पंडाल बनते हैं। इस बार कोलकाता के श्रीभूमि के स्पोर्टिंग क्लब में फिल्म ‘बाहुबली के तर्ज पर पंडाल बना है।इसे 150 कलाकारों ने तीन महीने में बनाकर तैयार किया।

इस पंडाल को बाहुबली पंडाल बताया जा रहा है।इसमें बाहुबली-2 फिल्म के आधार पर माहिष्मति महल की तरह मिलता जुलता एक महल बनाया गया है। जिसके बारे में खुद बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कहना है कि ये दुनिया का सबसे महंगा दुर्गा पंडाल है।

 महंगा दुर्गा पंडाल

इस पर दस करोड़ रुपए का खर्च हुआ है। इस साल शहर में करीब 3 हजार पूजा पंडाल बने हैं।सोने से दमकते माहिष्मती महल के मुख्य द्वार पर सूंड उठाए हुए दो हाथी भी बनाए गए हैं। थोड़ा आगे बढ़ने पर ही 8 दरबान खड़े हुए हैं।

महल के अंदर प्रवेश करने पर एक बड़ा सा झूमर और मां दुर्गा की सोने-चांदी और हीरे-जवाहरात से सजी प्रतिमा है। 110 फीट ऊंची झांकी की सिक्युरिटी में 300 जवान तैनात हैं।

 फिल्म के सीक्वल के पोस्टर की तरह अमरेंद्र बाहूबली सूंड के जरिए चढ़ते हुए नजर आएगा।गोस्वामी ने कहा कि पूरा पंडाल प्लाइवुड से बना होगा और मूर्ति बहुत विशाल होगी।फिल्म की स्टाइल में देवी सोने के आभूषण में सजी होंगी।यह 10 करोड़ रुपये का है।
expensive jewellary maa durga
मूर्तिकार बांस, लकड़ी, पुआल और मिट्टी से भगवती की मूर्ति को जीवंत रूप प्रदान करते हैं।मूर्तिकारों के एक प्रवक्ता बाबू पाल ने कहा, हम श्रद्धा के साथ मूर्ति बनाते हैं क्योंकि हम उन्हें अपनी बेटी की तरह मानते हैं।पूजा के समापन के बाद उनका विसर्जन होता है।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *