आधार पहचान पत्र का प्रचार करने के चक्कर में क्रिकेटर एमएस धोनी की जानकारी का उपयोग करना सरकार के लिए परेशानी भरा साबित हुआ है
टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की आधार की डिटेल सोशल मीडिया पर लीक होने का मामला सामने आया है. इस पर उनकी पत्नी साक्षी धोनी नाराज हो गई है | धोनी के आधार कार्ड की डिटेल सार्वजनिक होने के मामले में साक्षी ने केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद को ट्वीट करके अपनी नाराजगी भी जाहिर की है |

दरअसल, मामला यह है कि केंद्रीय दूर संचार व कानून मंत्री मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मंगलवार को धोनी के आधार कार्ड के साथ रजिस्ट्रेशन करवाते हुए एक तस्वीर री ट्वीट की थी | इस तस्वीर में धोनी आधार कार्ड के लिए मशीन पर उंगलियों के निशान स्कैन करवा रहे थे | रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट के साथ लिखा- ‘महान क्रिकेटर धोनी का डिजिटल हुक शॉट

इस ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए धोनी की पत्नी साक्षी सिंह ने लिखा ”क्या कोई प्राइवेसी बची हुई है? आधार कार्ड एप्लीकेशन की जानकारियों को पब्लिक प्रॉपर्टी बना दिया है. निराशाजनक.”

पुनः रविशंकर प्रसाद ने इस पर जवाब देते हुए लिखा कि , ”नहीं, ये जानकारी पब्लिक प्रॉपर्टी नहीं है. क्या मेरे इस ट्वीट से कोई पर्सनल जानकारी बाहर आ रही है.”

टि्वटर पर ये सवाल जवाब का सिलसिला कुछ देर तक चलते रहे | साक्षी ने इसके जवाब में लिखा, ”सर, जिस फॉर्म में पर्सनल जानकारी भरी हुई थी, वो लीक हो गया है.” एक दूसरे ट्वीट में साक्षी ने एक तस्वीर के साथ बताया , ”सर मैं @CSCegov_ हैंडल से ट्वीट की इस तस्वीर के बारे में बात कर रही हूं |

ये तस्वीर कॉमन सर्विस सेंटर के ऑफिशियल टि्वटर हैंडल @CSCegov_ से ट्वीट की गई थी | ट्वीट में धोनी का आधार कार्ड के लिए भरा फॉर्म शेयर किया गया था. हालांकि, बाद में ये ट्वीट डिलीट भी कर दिया गया.

बाद में रविशंकर प्रसाद ने @CSCegov_ की तरफ से हुई गलती स्वीकार करते हुए जबाब दिया है , ”इस बात पर ध्यान दिलाने के लिए धन्यवाद | किसी की निजी जानकारी शेयर करना गैरकानूनी है | इसको लेकर गंभीर कदम उठाए जाएंगे”

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *