बारिश से बेहाल चेन्नई में पिछले सौ सालों का रिकॉर्ड टूट गया है। शहर के स्कूल, कॉलेज बीते 16 दिनों से बंद हैं। हालात ये हैं कि सड़कों पर कई-कई फीट पानी जमा है और लोगों को अस्पताल तक जाने में परेशानी हो रही है। प्रशासन की मदद के लिए सेना, नौसेना और एनडीआरएफ की टीमें जुटी हैं।

चेन्‍नई एयरपोर्ट पर भरा पानी, रन-वे पानी में डूबा

यहां तक की चेन्‍नई एयरपोर्ट भी पानी से लबालब भर गया है। हालात ये हैं कि एयरपोर्ट के रन-वे तक पानी में डूब गए हैं और विमान भी पानी में खड़े हैं। एयरपोर्ट के निदेशक दीपक शास्‍त्री ने कहा कि जब तक एयरपोर्ट पर जल स्‍तर में कमी नहीं आएगी, विमान उड़ान नहीं भर पाएंगे। मंगलवार को भी रात 10 बजे तक नौ उड़ानों को रद्द कर दिया गया।

चेन्नई एयरपोर्ट को दिन भर के लिए बंद कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि यहां पर करीब 4000 लोगों के फंसे होने की खबर है। एनडीटीवी से बात करते हुए एनडीआरएफ के डीआईजी ने एनडीआरएफ की पांच और टीमों को तैनात करने का फ़ैसला किया है। एनडीआरएफ के मुताबिक, हवाई अड्डे के साफ होने के बाद राहत और बचाव के काम में तेज़ी आएगी।

चेन्नई के बाढ़ प्रभावित इलाक़े

  • पुरुषवक्कम
  • पोर्ट ऑफ़ चेन्नई
  • नुनगामबक्कम
  • गिउंडी
  • थिरुवनमयूर
  • वेलाचेरी
  • ताम्ब्रम
  • मेडावक्कम

रेल यातायात भी प्रभावित

वहीं, भारी बरसात से रेल यातायात भी प्रभावित हुआ है। रेल ट्रैकों पर पानी भर जाने की वजह से करीब 13 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। चेन्‍नई के लिए आने-जाने वाली ट्रेनों पर भी इसका खासा असर पड़ा है, जिससे लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

1
सड़कें पानी से लबालब, घरों में पानी भरा

चेन्‍नई के कई हिस्‍सों में सड़कें पानी से लबालब भर गई हैं। बताया जा रहा है कि घरों में भी बारिश का पानी भर गया है। लोगों का कहना है कि शहर में बिजली किल्‍लत का सामना भी करना पड़ रहा है। चेन्‍नई चिडि़याघर में भी बाढ़ सरीखे हालात देखे जा रहे हैं।

पीएम ने सीएम जयललिता से बात, हरसंभव मदद का भरोसा दिया

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता से बाढ़ के हालात पर बातचीत की है और राज्य को हर ज़रूरी सहायता मुहैया कराने का भरोसा दिया है। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘तमिलनाडु के हिस्सों में बाढ़ की स्थिति को लेकर जयललिताजी से बात की। इस दुर्भाग्यपूर्ण घड़ी में सभी संभावित मदद और सहयोग का आश्वासन दिया।’’

मरने वालों की संख्या 188 हुई

वर्षाजनित हादसों में मरने वालों की संख्या जहां 188 पहुंच गई वहीं जयललिता ने हालात का जायजा लिया और कहा कि पुलिस, अग्निशमन ओैर राहत, एनडीआरएफ, राज्य आपदा बल और तटीय गार्ड हालात पर काबू पाने के लिए प्रयासरत हैं। दूसरी तरफ मौसम विभाग के अधिकारियों ने सचेत किया है कि अभी अगले चार दिनों में राज्यभर में और बारिश होगी और कुछ क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी वर्षा होगी।

उल्‍लेखनीय है कि चेन्नई और आसपास के इलाकों में भारी बारिश जारी है। बारिश की वजह से स्कूल और कॉलेज 16 वें दिन भी बंद रहे। आने वाले दिनों में भी भारी बारिश के आसार बताए जा रहे हैं। नदी के किनारे रहने वाले तकरीबन 3000 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है। सेना के जवान भी राहत के काम में मदद कर रहे हैं।

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *