पंजाब नैशनल बैंक में 11,300 करोड़ रुपये के घोटाले के बाद सीबीआई ने दिल्ली के एक अन्य हीरा कारोबारी पर लोन धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज किया है. इस कंपनी पर ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स से 389.85 करोड़ रुपये की लोन धोखाधड़ी का आरोप है.

390 करोड़ रुपये के घोटाले में ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स की शिकायत को बीते 6 महीने से दबाए बैठी सीबीआई ने अब दिल्ली स्थित एक जूलरी आउटलेट के खिलाफ केस दर्ज किया है।

सीबीआई ने कथित धोखाधड़ी के लिए द्वारका दास सेठ इंटरनेशनल लिमिटेड पर मामला दर्ज किया है. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक की शिकायत के छह महीने बाद एजेंसी ने कंपनी के निदेशकों सभ्य सेठ, रीता सेठ, कृष्ण कुमार सिंह, रवि सिंह और एक अन्य कंपनी द्वारका दास सेठ SEZ इनकॉर्पोरेशन के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

बता दें इस कंपनी ने ओबीसी की ग्रेटर कैलाश-II स्थित ब्रांच से 2007 में फॉरन लेटर ऑफ क्रेडिट, फॉरन हासिल करने के बाद कई तरह से लोन हासिल किया। इस कंपनी का संचालन सभ्य सेठ और रीता सेठ के हाथ में है, जो पंजाबी बाग के रहने वाले हैं। इसके अलावा कृष्ण कुमार सिंह और रवि कुमार सिंह भी इस कंपनी से जुड़े हैं, जो सराय काले खां के निवासी हैं। सीबीआई ने अपनी एफआईआर में इन सभी के नाम दर्ज किए हैं।

बैंक ने अपनी जांच के बाद दावा किया था कि सभ्य सेठ और कंपनी के अन्य डायरेक्टर्स को बीते 10 महीनों से उनके घरों पर नहीं पाया गया है। बैंक ने अपनी जांच में संदेह जताया है कि सभ्य सेठ भी नीरव मोदी और विजय माल्या की तरह भारत से भाग चुके हैं।

बता दें कि पंजाब नेशनल बैंक में हुए 11 हजार करोड़ के घोटाले का सच सामने आने के बाद अब सभी बैंक सतर्क हो गए हैं. सीबीआई पूरे मामले पर नजर बनाए हुए हैं. सीबीआई ज्वैलर से जुड़े सभी दस्तावेज जुटाने में लगी हुई है. बहुत जल्द इस गबन के आरोप मेंं कई गिरफ्तारियां हो सकती हैं.

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *