आध्यात्मिक गुरु ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या, जानिए कौन थे भय्यू जी महाराज


आध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज ने अज्ञात कारणों के चलते गोली मार ली। गंभीर हालत में उन्हें इंदौर स्थित बॉम्बे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई।

भय्यू जी महाराज का वास्तविक नाम उदयसिंह देशमुख है। जानकारी के मुताबिक महाराज ने दोपहर को सिल्वर स्प्रिंग स्थित अपने बंगले की दूसरी मंजिल पर खुद को गोली मार ली।

ये भी पढ़ें : बाबा के गुंडे बने आतंकवादी, पूरे देश में हत्या और आगजनी, महिलाओं बच्चियों तक को नही छोड़ा

सूत्रों की माने तो भय्यूजी महाराज पिछले कुछ दिनों से पारिवारिक कलह के चलते परेशान थे, जिसके चलते ही उन्होंने कदम उठाया। गौरतलब शिवराज सरकार ने प्रदेश में जिन पांच संतों को राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया था, उसमें से भय्यूजी महाराज भी एक थे लेकिन उन्होंने सरकार ने इसे ठुकरा दिया था।

कौन थे भय्यू जी महाराज:

1968  भय्यूजी महाराज का वास्तविक नाम उदयसिंह देखमुख है। उनका जन्म शुजालपुर के एक किसान परिवार में हुआ था। हाल ही में वे ग्वालियर की डॉ. आयुषी शर्मा के साथ सात फेरे लेने के बाद सुर्ख़ियों में आए थे।

उनका मुख्य आश्रम इंदौर स्थित बापट चौराहे पर है। सदगुरु दत्त धार्मिक ट्रस्ट उनके सानिध्य में संचालित होता है। पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, पीएम नरेंद्र मोदी, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री विलासराव देखमुख, शरद पवार, लता मंगेशकर, उद्धव ठाकरे और मनसे के राज ठाकरे, आशा भोंसले, अनुराधा पौडवाल, फिल्म एक्टर मिलिंद गुणाजी भी उनके आश्रम आ चुके हैं।


Related posts

Leave a Comment