student-for-study

My dear brother’s sister’s and friends आपको अकसर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने  के लिए आपके सामने यह समस्या आती है ,कि पढाई में मन नही लगता है । मगर पढना प्रतियोगी परीक्षा के लिए बहुत जरुरी है ।

तो मेरे अनुभव और विचार से सबसे पहले पढाई में मन न लगने के कारण का पता लगाना चाहिए कि आखिर पढाई में मन क्यों नही लग रहा है ।

पढने के लिए समय न मिलना ।
पढने के लिए जरुरी पुस्तक का समय पर न मिलना ।
पढाई में ध्यान न लगना ।
पढाई करने के लिए अच्छा माहौल का न होना

वैसे तो बहुत सारे कारण रहते है पढाई न करने के पर छोडो यह सब बातें, क्यूंकि स्टडी करने वालों को इन सब बातो से कोई मतलब नहीं होता है फिर भी अगर आपका दिल नहीं मानता तो चलो आपको हम आपके काम की बातें सिखाते है।

ये एकदम सीधी सी बात है, जैसे हम अपने काम Daily Base पर रोज करते है ठीक उसी प्रकार हमे भी अपनी Study रोज करनी चाहिए।

आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा, पढाई हमेशा कुर्सी-टेबल पर बैठ कर ही करें , बिस्तर पर लेट कर बिलकुल भी न पढ़े। लेटकर पढने से पढ़ा हुआ भी भूल जाता है और नींद आने लगती है, पढाई में मन नही लगता।

पढ़ते समय टेलीविजन न चलाये , पढाई के समय मोबाइल फ़ोन से दूर रहे ,” मोबाइल पढाई का शत्रु है ”  यदि आपको पढाई के समय कोई प्रोब्लम आये तो कंप्यूटर या इन्टरनेट की मदद ले सकते है। एक और बात ग्रुप डिस्कशन पढाई में लाभदायक होता है।

इनके साथ अपने स्वास्थ्य का ध्यान भी जरुरी है। संतुलित भोजन करें क्योंकि ज्यादा भोजन से नींद और आलस्य आता है , जबकि कम  भोजन से पढने में मन नही लगता है और थकावट, सिरदर्द आदि समस्याएं होती है । तो आपना भोजन समय पर करें।

पढ़ाई करने के लिए आप किसी ऐसी जगह का चुनाव करें, जो एकांत हो अर्थात जहां शोरगुल बिल्कुल भी ना हो। ऐसे जगह पर न जाये जहां पर टीवी या रेडियो चल रहा हो। पढ़ते समय एक आरामदायक कुर्सी का प्रयोग करें,  इसके साथ साथ अच्छी प्रकाश व्यवस्था होनी चाहिए।

पढ़ते समय आपकी जरूरत का सारा सामान आपके पास होना चाहिए।  पढ़ते समय बार बार अपनी जगह से न उठे, बार बार उठने से आपको डिस्टर्ब तो होगा ही बल्कि आपका मन दुबारा से पढ़ाई में लगे ये भी मुश्किल है।

जिस रूम में आप पढ़ रहे है, याद रहे वह उपस्थित सभी सामान व्यवस्थित तरीके से होना चाहिए, ताकि आपके मन में अव्यवस्था उत्पन्न न हो।

यदि संभव हो तो आप पढ़ते समय अपने किसी अच्छे सहपाठी को भी इनवाइट कर सकते है।  आपके साथ पढ़ने वाला सहपाठी ऐसा होना चाहिए जो आपकी तुलना में अधिक होशयार हो।

आप दोनों मित्र पढ़ाई को और ज्यादा इंटरेस्टिंग करने के लिए कॉम्पिटिशन भी कर सकते है।  कॉम्पिटिशन करने से कार्य में दिलचस्पी बढ़ने लगती है और दोनों को पहले की अपेक्षा जल्दी याद भी होगा।

यह बात हम आपको पहले भी बता चुके है कि पढ़ते समय मोबाइल को खुद से दूर रखना अति आवश्यक है । यदि आप ध्यानपूर्वक कुछ पढ़ रहे है, और अचानक आपके मोबाइल की रिंग बज पड़ती है।तो आपका ध्यान पढ़ाई से पुरे तरीके से हट जाता है और आपका दिमाग विचलित होने लगता है। इसलिए पढ़ते समय मोबाइल को साइलेंट मोड में रखें।

पढ़ने के लिए एक समय सारिणी तैयार रखे। यदि आपको पढ़ते पढ़ते 30 से 60 मिनट हो चुके हो तो पढ़ाई के बीच 05 से 10 मिनट का ब्रेक जरूर ले। क्योकि लगातार पढ़ाई करने से आपका दिमाग थक जाता है, जिससे आप जो याद करते है वह अपनी थकान की वजह से ज्यादा देर तक याद नहीं रख पाते।

 

 

 

 

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *